share--v1

IPL 2024: हेड को जीवनदान, हार्दिक ने की ये गलती, मुंबई इंडियंस की हार के 5 बड़े कारण

IPL 2024: इंडियन प्रीमियर लीग 2024 के 8वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस को 31 रनों से हार मिली. जानिए हार्दिक पांड्या की टीम को मिली हार के 5 बड़े कारण..

auth-image
Bhoopendra Rai

IPL 2024: इंडियन प्रीमियर लीग 2024 का 8वां मुकाबला इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया. हैदराबाद में खेले गए इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने 31 रनों से मुंबई इंडियंस को शिकस्त दी थी. यह मैच जिसने भी देखा वो हैरान रह गया, क्योंकि SRH के गेंदबाजों ने तूफानी बल्लेबाजी की और रिकार्ड की झड़ी लगा दी. मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों की खूब पिटाई हुई. जसप्रीत बुमराह और पीयूष चावला जैसे सीनियर गेंदबाजों को भी नहीं बख्शा गया. इस सीजन MI की यह लगातार दूसरी हार है. इससे पहले टीम को गुजरात टाइटंस ने हराया था. आइए हार्दिक पांड्या की टीम की हार के कुछ खास कारणों पर नजर डाल लेते हैं.

मुंबई इंडियंस की हार के कारण

पहला कारण- हेड को जीवनदान

हैदराबाद टीम के ओपनर हेड को 2 जीवनदान दिए. उनका पहला कैच ड्रॉप दूसरे ही ओवर में टिम डेविड ने ड्रॉप किया, जिसके बाद उन्होंने तूफानी बैटिंग करते हुए 24 बॉल पर 62 रन की विस्फोटक पारी खेली और अपनी टीम को जबरदस्त शुरुआत दिलाई.

दूसरा कारण- दबाव बनाने में नाकाम रहे MI के गेंदबाज

हैदराबाद ने अपना पहला विकेट 45 रनों पर गंवा दिया था. यहां से एमआई के पास मौका था कि वो दबाव बनाए, लेकिन छठा ओवर लेकर आए जेराल्ड कूट्जी दबाव नहीं बना सके. 6वें ओवर में कोएत्जी ने 23 रन लुटा दिए. पावरप्ले के बाद अभिषेक शर्मा और ट्रैविस हेड ने तेजी से रन बनाए और 7.5 ओवर में जब हेड आउट हुए तो टीम का स्कोर 113 रन हो चुका था.

तीसरा कारण- आखिर के ओवरों में विकेट नहीं गिरे

मुंबई इंडियंस के गेंदबाज आखिरी के ओवरों में भी विकेट नहीं ले सके. आखिर के 9 ओवरों में MI को कोई भी विकेट नहीं मिला. यही वजह है कि SRH टूर्नामेंट का सबसे बड़ा टोटल बनाने में कामयाब रही. 

चौथा कारण- बुमराह को किसी दूसरे गेंदबाज का साथ नहीं मिला

हैदराबाद के खिलाफ तेज गेंदबाज बुमराह को किसी दूसरे गेंदबाज का साथ नहीं मिला. बुमराह के अलावा, सभी गेंदबाजों ने 10 से ज्यादा की इकोनॉमी से रन लुटाए, जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा.

पांचवा कारण- हार्दिक की धीमी पारी

278 रन के जवाब में मुंबई ने विस्फोटक शुरुआत की. रोहित और किशन की जोड़ी ने 20 बॉल पर 56 रन जोड़े, लेकिन इन दोनों के आउट होने के बाद मिडिल ऑर्डर रन रेट को मेंटेन नहीं कर पाए. कप्तान हार्दिक पांड्या ने 120 के स्ट्राइक रेट से बैटिंग की, जबकि दूसरे खिलाड़ियों ने 180 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की.

मैच का लेखा जोखा

अगर मैच की बात करें तो MI vs SRH के बीच यह मुकाबला हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में हुआ, मुंबई ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी. पहले बैटिंग करने उतरी हैदराबाद ने 20 ओवर में 3 विकेट पर 277 रन बनाए, जवाब में MI 20 ओवर में 5 विकेट पर 246 रन ही बना सकी. इस मैच में हैदराबाद ने IPL इतिहास का सबसे बड़ा टोटल बनाया. इससे पहले यह रिकार्ड RCB के नाम था, जिसने साल 2013 में पुणे वॉरियर्स के खिलाफ 263 रन बनाए थे.

Also Read