share--v1

'गाजा पर गिरा दो परमाणु बम', अमेरिकी सांसद के बयान पर मचा संग्राम

Israel Hamas War: अमेरिका की रिपब्लिकन पार्टी के सांसद ने अपने बयान में गाजा पर परमाणु बम गिराने की बात कही है. उनके इस बयान की वैश्विक बिरादरी द्वारा भरसक आलोचना की जा रही है.

auth-image
India Daily Live

Israel Hamas War: इजरायल और हमास जंग रोकने के लिए दुनियाभर के देशों द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं. इस दौरान अमेरिकी सांसद के बयान से बवाल मच गया है. रिपब्लिकन सांसद टिम वालबर्ग ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि इजरायल और हमास के युद्ध का एक ही हल है कि गाजा पर परमाणु हमला कर दिया जाए. गाजा पर ठीक वैसी ही कार्रवाई कर दी जाए जैसी हिरोशिमा पर की गई थी. टिम ने कहा कि गाजा में तत्काल मानवीय सहायता पर रोक लगा देनी चाहिए और वहां पैसे बर्बाद करने की जरूरत नहीं है. 

रिपोर्ट के अनुसार, टिम का बयान सोशल मीडिया पर भी खासा वायरल हो रहा है. एक डेमोक्रेटिक नेता ने उनके बयान को बेहद हैरान कर देने वाला बताया है. उन्होंने कहा कि फिलिस्तीनी जनता नरसंहार का सामना कर रही है. ऐसे में यह बयान बेहद परेशान करने वाला है. टिम वालबर्ग मिशिगन प्रांत से सांसद हैं. वालबर्ग से इस मामले में सवाल पूछे जाने पर उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि यह बात सिर्फ उदाहरण देने के लिए कही गई थी. 

वालबर्ग के स्पोक्सपर्सन ने कहा कि वे एक सभा में यह बताने की कोशिश कर रहे थे कि कैसे हमास का खात्मा किया जा सकता है. उन्होंने इसी दौरान कहा कि गाजा पर परमाणु बम गिराकर हमास को खत्म किया जा सकता है और जंग रोकी जा सकती है. 

सेकेंड वर्ल्ड वॉर 1945 के दौरान अमेरिका ने जापान के दो घनी आबादी वाले शहरों हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम गिराए थे. अमेरिका ने 6 अगस्त 1945 को हिरोशिमा और 9 अगस्त पर नागासाकी पर परमाणु हमला किया था.अमेरिका के इन हमलों में तीन लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. 

सात अक्टूबर के हमले के बाद इजरायल और हमास छह महीने से ज्यादा समय से चल रहे युद्ध का सामना कर रहे हैं. इस युद्ध का हल निकालने के लिए दुनियाभर के देश प्रयास कर रहे हैं. बंधकों की रिहाई न हो पाने के कारण इजरायली जनता बेंजामिन सरकार के खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन कर रही है. 

Also Read