share--v1

आग में घी डाल रहे मैक्रों, कीव को देने जा रहे टैंक और घातक मिसाइलें 

France Defence Aids To Kyiv: फ्रांस के रक्षा मंत्री ने एक इंटरव्यू में यूक्रेन की मदद के लिए फ्रांसीसी समर्थन को दोहराया है. उन्होंने कहा कि पेरिस एक नए रक्षा सहायता पैकेज पर काम कर रहा है.

auth-image
India Daily Live

France Defence Aids To Kyiv: फ्रांस के रक्षा मंत्री सेबेस्टियन लेकार्नू ने यूक्रेन को बड़ी मात्रा में पुराने बख्तरबंद टैंकों और घातक मिसाइल प्रदान करने की घोषणा की है. रविवार को एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि रूस के खिलाफ जंग में पेरिस ने कीव की मदद का फैसला किया है, हम बड़ी मात्रा में अपने सहयोगी को सैन्य हथियारों की आपूर्ति करने जा रहे हैं.

फ्रांसीसी अखबार ला ट्रिब्यून डिमांचे के साथ एक इंटरव्यू में लेकार्नू ने कहा कि राष्ट्रपति मैक्रां ने यूक्रेनी प्रेसिटेंड जेलेंस्की से बातचीत के बाद एक नया सहायता पैकेज तैयार करने को कहा है. इस पैकेज में सैकड़ों पुराने टैंक और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइलें शामिल होंगी. फ्रांसीसी रक्षा मंत्री ने कहा कि यूक्रेनी सेना को अपनी लंबी सीमाओं की सुरक्षा के लिए बड़ी मात्रा में बख्तरबंद वाहनों की जरूरत है. हमने यूक्रेन के आग्रह को ध्यान में रखते हुए उन्हें यह प्रदान करने का फैसला किया है. 

इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि फ्रांस पहले कीव को फ्रंट लाइन पर सैन्य कार्रवाई में सक्षम सैकड़ों वीएबी ( बख्तरबंद मोहरा वाहन)  को देने पर विचार कर रहा था. इसे अब आर्कस टैंक के नाम से भी जाना जाता है. फ्रांसीसी सेना अब इन्हें मल्टीरोलर ट्रूप कैरियर के साथ बदल रही है. 1970 के अंत में फ्रांस ने इन बख्तरबंद वाहनों का प्रयोग करना शुरु किया था. 

रक्षा मंत्री ने आगे बताया कि फ्रांस कीव को प्रदान की गई एसएएमपी/टी प्रणाली के लिए सतह से हवा में मार करने वाली एस्टर - 30 मिसाइलों का एक नया बैच जारी करने की भी तैयारी कर रहा है. एस्टर- 30 मिसाइलें 120 किलोमीटर के दायरे में युद्धक विमानों, ड्रोन और क्रूज मिसाइलों को रोकने में सक्षम हैं. फ्रांस इन मिसाइलों का प्रयोग लाल सागर में आतंक फैलाने वाले हूती विद्रोहियों के ठिकानों पर भी कर रहा है. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रां ने बीते दिनों यूरोपीय देशों से यूक्रेन की मदद के लिए अपनी सेनाओं को भेजने का आग्रह किया था. 

Also Read