menu-icon
India Daily
share--v1

ईरान और पाकिस्तान में बढ़ेगी टेंशन: ईरान में नौ पाकिस्तानियों की बेरहमी से हत्या के बाद भड़के राजदूत

बलूच अधिकार समूह हलवाश ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि पीड़ित पाकिस्तानी मजदूर थे जो एक कार रिपेयरिंग की दुकान में रहते थे और वहीं काम करते थे.

auth-image
Naresh Chaudhary
Pakistan News, Iran News, World News

हाइलाइट्स

  • हथियारबंद लोगों ने घर में घुसकर मारी गोलियां, तीन गंभीर रूप से घायल
  • कार रिपेयरिंग का काम करते थे सभी पाकिस्तानी मजदूर

Nine Pakistanis Shot Dead in Iran: पाकिस्तान पर हमला करने वाले ईरान से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. ईरान में बंदूकधारियों ने दक्षिण-पूर्वी सीमा क्षेत्र में नौ पाकिस्तानियों की हत्या कर दी है. न्यूज साइट अल जजीरा ने तेहरान में पाकिस्तानी राजदूत के हवाले से इस खबर की पुष्टि की है. तेहरान में पाकिस्तानी राजदूत मुहम्मद मुदस्सिर टीपू ने कहा है कि सरावन में नौ पाकिस्तानियों की निर्मम हत्या से गहरा सदमा लगा है. दूतावास पीड़ित परिवारों को पूरा समर्थन देगा. साथ ही कहा है कि हमने ईरान से इस मामले में पूर्ण सहयोग देने की अपील की है. 

हथियारबंद लोगों ने घर में घुसकर मारी गोलियां, तीन गंभीर रूप से घायल

इससे पहले शनिवार को ईरान की मेहर न्यूज एजेंसी ने सिस्तान-बलूचिस्तान प्रांत के सारावन में हमले की सूचना दी थी. इसने मृतकों की पहचान केवल विदेशी नागरिकों के रूप में की थी. कहा था कि किसी भी व्यक्ति या समूह ने गोलीबारी की जिम्मेदारी नहीं ली है. 

प्रांत के डिप्टी गवर्नर अलीरेजा मरहमती ने ईरान की आधिकारिक न्यूज एजेंसी आईआरएनए को बताया कि घटना में जीवित बचे लोगों के अनुसार, तीन हथियारबंद लोगों ने विदेशियों पर उनके आवास में घुसकर गोलीबारी की और फिर भाग गए. उन्होंने नौ लोगों की मौत की पुष्टि की और कहा कि तीन अन्य घायल हैं.

कार रिपेयरिंग का काम करते थे सभी पाकिस्तानी मजदूर

बलूच अधिकार समूह हलवाश ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि पीड़ित पाकिस्तानी मजदूर थे जो एक कार रिपेयरिंग की दुकान में रहते थे और वहीं काम करते थे. हमले को आतंकवादी घटना बताते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह ईरान के अधिकारियों के संपर्क में हैं. उन्होंने तेहरान से घटना की जांच करने को कहा है. 

अल जजीरा के अनुसार, विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मुमताज जहरा बलूच ने खबर के बाद कहा कि यह एक भयावह और घृणित घटना है. हम इसकी स्पष्ट रूप से निंदा करते हैं. हम ईरान के अधिकारियों के संपर्क में हैं और हमने घटना की तुरंत जांच करने व इस जघन्य अपराध में शामिल लोगों को जिम्मेदार ठहराने की आवश्यकता पर जोर दिया है.