menu-icon
India Daily
share--v1

Israel Hamas War: इजरायल के सामने हथियार डालने को तैयार है हमास, बस माननी होगी एक शर्त

Israel Hamas War: हमास के शीर्ष नेता ने कहा कि इजरायल यदि उसकी शर्त मान लेगा तो वह अपने हथियार डालकर खुद को एक पूर्ण राजनीतिक शाखा में बदल देगा.

auth-image
India Daily Live
lay down weapons says hamas leader

Israel Hamas War: महीनों से जारी इजरायल और हमास जंग के बीच बड़ी खबर सामने आई है. समाचार एजेंसी एपी को दिए गए इंटरव्यू में गाजा में हमास सरकार के शीर्ष अधिकारी ने बड़ा खुलासा किया है. अधिकारी ने कहा कि हमास इजरायल के साथ पांच साल या उससे अधिक अवधि के संघर्षविराम के लिए सहमत है. हमास के अधिकारी ने कहा कि 1967 सीमाओं के आधार पर स्वतंत्र फिलिस्तीन राज्य की स्थापना हो जाती है तो वह अपने हथियार डाल देगा साथ ही खुद सशस्त्र समूह के बदले एक पूर्ण राजनीतिक दल में बदल देगा.

बुधवार को दिए गए इंटरव्यू में हमास के शीर्ष नेता खलील अल हया का यह बयान हमास के रुख में नरमी का संकेत करता है जो फिलिस्तीनी धरती से इजरायली प्रभुत्व को नकारने की वकालत करता है. 

हमास की राजनीतिक विंग के नेता का यह बयान दोनों पक्षों के बीच जारी शांति वार्ता के मध्य आया है. जानकारों के मुताबिक इस बात की संभावना बेहद कम ही है कि इजरायल उसके सुझाव पर कोई विचार करे. सात अक्टूबर के हमास हमले के बाद इजरायल ने हमास को जड़ से खत्म करने की कसम खाई है. हमास हमेशा से टू स्टेट सॉल्यूशन के खिलाफ रहा है. वह पूरे इलाके पर पूर्ण फिलिस्तीनी राज्य और इजरायल के खात्मे की बात करता रहा है.

इस्तांबुल में समाचार एजेंसी एपी से बात करते हुए हमास के नेता ने कहा कि गाजा और वेस्ट बैंक इलाके में सरकार बनाने के लिए हम अपने प्रतिद्वंद्वी गुट फतह के नेतृत्व वाले पीएलो यानी फिलिस्तीन मुक्ति मोर्चा में शामिल होने को तैयार हैं. इजरायल यदि 1967 की सीमाओं के अनुसार, वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी में आजाद फिलिस्तीन की मांग को स्वीकार करेगा तो हम अपनी सैन्य शाखा को भंग कर देंगे. 

गाजा में हमास और वेस्ट बैंक इलाके में फतह ग्रुप के बीच लंबे समय से मतभेद रहा है. गाजा को फतह से हथियाने में हमास ने काफी संघर्ष किया है. दोनों गुटों के बीच सत्ता को लेकर आपसी संघर्ष और विवाद को लेकर लंबा इतिहास रहा है.