share--v1

UP बजट सत्र आज से; सदन में योगी सरकार को घेरेगी सपा, हंगामे के आसार

विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने सभी दलों की बैठक बुलाकर बजट सत्र के दौरान सहयोग मांगा है. वहीं बैठक में मौजूद सभी नेताओं ने 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए सीएम योगी को बधाई दी है.

auth-image
Naresh Chaudhary
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • सपा और कांग्रेस ने सदन में योगी सरकार को घेरने की बनाई रणनीति 
  • एडवाइजरी कमेटी ने 2 से 12 फरवरी तक सदन के एजेंडे को दी मंजूरी

UP Budget 2024: उत्तर प्रदेश विधानसभा में आज यानी 2 फरवरी से बजट सत्र शुरू होने जा रहा है.  राज्य विधानमंडल के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक से पहले राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभिभाषण सुबह 11 बजे होगा. इसके बाद बजट सत्र की शुरुआत होगी. वहीं प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान ही विरोध प्रदर्शन करने की योजना बना रही है. उधर, योगी आदित्यनाथ सरकार भी आक्रामक रूप से विपक्षियों का सामने करने के लिए तैयार है. यानी कुल मिलाकर उत्तर प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र हंगामेदार होने के आसार हैं.

राज्यपाल के अभिभाषण का भी विरोध करेंगे विपक्षी दल

समाजवादी पार्टी के मुख्य सचेतक मनोज कुमार पांडे की ओर से कहा गया है कि सपा राज्यपाल के अभिभाषण का विरोध करेगी. उन्होंने कहा कि हमने सदन में उठाए जाने वाले विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की है. एनडीए सरकार सभी संवैधानिक मानदंडों का उल्लंघन कर रही है और विपक्षी दलों के नेतृत्व वाली सरकारों को परेशान किया जा रहा है. किसानों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. मनोज कुमार पांडे ने कहा कि किसानों को अपनी उपज का सही दाम नहीं मिल रहा है. राज्य सरकार युवाओं और महिलाओं के हितों का ध्यान नहीं रख रही है. इसके साथ ही सपा की ओर से बढ़ती महंगाई का मुद्दा भी उठाया जाएगा. 

सपा और कांग्रेस ने सदन में योगी सरकार को घेरने की बनाई रणनीति 

जानकारी के मुताबिक समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने भी पार्टी विधायकों को कानून-व्यवस्था के मुद्दों को सदन में आक्रामक रूप से उठाने का निर्देश दिया है. उधर, कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा 'मोना' ने भी कहा कि उनकी पार्टी सदन में जनहित के मुद्दे उठाएगी. इस बीच विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने सभी दलों के नेताओं की बैठक बुलाकर उनका सहयोग मांगा है.  बैठक में उपस्थित सभी नेताओं ने 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बधाई दी.

एडवाइजरी कमेटी ने 2 से 12 फरवरी तक सदन के एजेंडे को दी मंजूरी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश अब स्वस्थ बहस आयोजित करने के लिए जाना जाता है. उन्होंने कहा कि बजट सत्र के दौरान सदन राज्य के वार्षिक बजट पर भी बहस करेगा. उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों की विधानसभाओं के वक्ता यूपी का दौरा कर रहे हैं और नए रूप वाली विधानसभा की प्रशंसा कर रहे हैं.

उधर, बिजनेस एडवाइजरी कमेटी ने 2 से 12 फरवरी, 2024 तक सदन के एजेंडे को मंजूरी दे दी है. सदन की बैठक दोनों शनिवारों यानी 3 और 10 फरवरी को होगी. हालांकि 3 फरवरी को इसके अध्यक्ष के निधन पर शोक व्यक्त करने के बाद इसे स्थगित किया जाएगा. इनमें ददरौल (शाहजहांपुर) से भाजपा सदस्य मानवेंद्र सिंह (5 जनवरी, 2024) और गैसरी, बलरामपुर से सपा सदस्य शिव प्रताप यादव (26 जनवरी, 2024) शामिल हैं.

दो अध्यादेश भी सदन में किए जाएंगे पेश

राज्य सरकार ने 5 फरवरी को सदन में 2024-2025 के लिए वार्षिक बजट पेश करने का प्रस्ताव रखा है. वह 7 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव और 12 फरवरी को वार्षिक बजट पारित कराना चाहती है. पिछले सत्र के बाद दो अध्यादेश, उत्तर प्रदेश स्टाम्प (यूपी संशोधन) अध्यादेश -2023 और उत्तर प्रदेश निजी विश्वविद्यालय (सातवां संशोधन) अध्यादेश -2023 भी सदन में पेश किए जाएंगे.

Also Read

First Published : 02 February 2024, 08:02 AM IST