share--v1

ज्ञानवापी-हल्द्वानी को लेकर तौकीर रजा ने किया था 'जेल भरो' आह्वान

Tauqeer Raza: ज्ञानवापी और हल्द्वानी के विरोध में मौलवी तौकीर रजा के समर्थकों के इकट्ठा होने के बाद बरेली में सुरक्षा बढ़ा दी गई. इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल के प्रमुख रजा को 'जेल भरो' आह्वान के बाद हिरासत में लिया गया.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

नई दिल्ली: बीते शुक्रवार की नमाज के बाद बरेली शहर के इस्लामिया मैदान में मौलवी तौकीर रजा के सैकड़ों समर्थक इकट्ठा होने लगे. लोगों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए बरेली में सुरक्षा बढ़ा दी गई. मौजूदा स्थिति तब तनावपूर्ण होने लगी जब उन लोगों ने पीएम मोदी, यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ और उत्तराखंड के सीएम धामी के खिलाफ नारे लगाना शुरू कर दिए.

घटना का सीसीटीवी आया सामने

ज्ञानवापी और हल्द्वानी के विरोध में मौलवी तौकीर रजा के समर्थकों के इकट्ठा होने के बाद बरेली में सुरक्षा बढ़ा दी गई. इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल के प्रमुख रजा को 'जेल भरो' आह्वान के बाद हिरासत में लिया गया. घटना को बढ़ने के बाद बाजार बंद हो गए इसके साथ ही स्कूलों की समय से पहले ही जल्दी छुट्टी कर दी गई. घटना का सीसीटीवी वीडियो भी सामने आया है, जिसमें रजा के समर्थकों पर पथराव होता दिख रहा है. इस मामले में पुलिस जांच कर रही है. वहीं एसएसपी ने मामले में शामिल सभी अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया.

तीन लोग हुए घायल

रजा ने वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद से संबंधित हालिया घटनाक्रम और उत्तराखंड प्रशासन के हल्द्वानी में अतिक्रमण विरोधी अभियान के विरोध में शुक्रवार को ' जेल भरो ' का आह्वान किया था. जिसके बाद इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल के प्रमुख रजा को कुछ समय के लिए हिरासत में लिया गया. वहीं पुलिस ने बताया कि बरेली के श्यामतगंज समेत कुछ स्थानों पर तोड़फोड़ की छिटपुट घटनाएं हुईं जिसमें तीन लोगों के घायल होने की सूचना है.

इलाके में भारी पुलिस बल तैनात 

एडीजी बरेली प्रेम चंद मीना ने कहा, "शहर को जोन और सेक्टर में बांटा गया है और शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. खुफिया एजेंसियां कड़ी नजर रख रही हैं." सावधानी के लिए, संवेदनशील क्षेत्रों में सभी बाजार बंद कर दिए गए और स्कूल जल्दी बंद कर दिए गए. 

Also Read

First Published : 10 February 2024, 09:52 PM IST