menu-icon
India Daily
share--v1

जगन रेड्डी या चंद्रबाबू नायडू किसके साथ डील, लोकसभा चुनाव से पहले BJP के नजदीक कौन?

लोकसभा चुनाव से पहले आंध्र प्रदेश की दोनों मुख्य पार्टियां बीजेपी से नजदिकियां बढ़ा रही हैं. चंद्रबाबू नायडू ने गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी प्रमुख जेपी नड्डा से मुलाकात की. जगन मोहन रेड्डी ने पीएम मोदी से मुलाकात की है.

auth-image
India Daily Live
Lok Sabha Elections 2024

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले दक्षिण की दो पार्टियां बीजेपी से नजदीकियां बढ़ा रही हैं. आंध्र प्रदेश की दो पार्टियां तेलुगु देशम पार्टी और वाईआरएस बीजेपी के साथ गठबंध में आने को इच्छुक है. TDP के प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू के गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के 24 घंटे से भी कम समय के बाद मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी भी दिल्ली पहुंच गए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. अब बीजेपी आंध्र प्रदेश में अपना 'साथी' चुनने में जुट गई है. 

जगन मोहन रेड्डी ने पीएम मोदी  से मुलाकात से पहले गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की. उनकी मुलाकात ने नई अटकलों तो जन्म दे दी है. जगन कई मुद्दो पर केंद्र सरकार का समर्थन में रही है. हालांकि प्रदेश में टीडीपी बीजेपी की पुराने सहयोगी दल रही है. साल 2018 में जब विशेष राज्य के दर्जे के मुद्दे पर रेड्डी का दबाव था, तब बीजेपी ने कहा था कि "(आंध्र प्रदेश की पार्टी के लिए) दरवाजे हमेशा के लिए बंद हो गए हैं."

पांच से छह सीटों पर बन सकती है बात

सूत्रों की माने तो टीडीपी बीजेपी के साथ लोकसभा में पांच सीट साझा करने को तैयार है. हालांकि बीजेपी खेमा अधिक सीटों की मांग कर रहा है. दोनों पार्टियों के बीच पिछले कई महीनों से बात चल रही है. बीजेपी की राज्य में राजनीतिक ताकत नहीं है, लेकिन इसके बावजूद होगा वही जो बीजेपी चाहती है. बीजेपी साल 2019 के विधानसभा चुनाव में सभी 173 सीटों पर लड़ने के बावजूद एक भी सीट जीतने में सफल नहीं हो सकी थी. 

2019 में बीजेपी का नहीं खुला खाता

बीजेपी पिछले साल नवंबर में पड़ोसी राज्य तेलंगाना में बड़ी हार का सामना करना पड़ा था. इससे पहले 2019 के लोकसभा चुनवान में वाईएसआर को 22 सीटें मिली थी. वहीं टीडीपी ने 3 सीटें जीती थी. बीजेपी का प्रदेश में खाता भी नहीं खुला था.