menu-icon
India Daily
share--v1

Rajasthan Politics: राजस्थान में सीएम फेस को लेकर सस्पेंस बरकरार, दिल्ली में बाबा बालकनाथ 

Rajasthan Politics: राजस्थान में चुनाव जीतने के बाद सीएम फेस को लेकर सस्पेंस बरकरार है. इस बीच पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने बाबा बालकनाथ को दिल्ली बुलाया है. 

auth-image
Amit Mishra
baba balaknath

हाइलाइट्स

  • राजस्थान में कौन बनेगा मुख्यमंत्री?
  • चर्चा में है बाबा बालकनाथ का नाम

Rajasthan Election Result 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जीत मिली है. जीत के बाद अब मुख्यमंत्री को लेकर रेस तेज हो गई है. इस बीच पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने राजस्थान के योगी कहे जाने वाले बाबा बालकनाथ को दिल्ली बुलाया है. माना जा रहा है कि बाबा बालकनाथ की मुलाकात पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से हो सकती है. फिलहाल अभी ये तय नहीं है कि सीएम कौन होगा, लेकिन पार्टी नेताओं के बीच हलचल जरूर बढ़ गई है. 

'बालकनाथ बन रहे हैं सीएम' 

राजस्थान में सीएम पद को लेकर हो रही चर्चा में महंथ बालकनाथ का नाम भी आगे हैं. इसी बीच सोमवार को सदन के बाहर कांग्रेस नेता और लोकसभा सांसद अधीर रंजन चौधरी और बालकनाथ के बीच कुछ हंसी मजाक के पल देखने को मिले. अधीर रंजन चौधरी ने मजाक-मजाक में कह दिया कि राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री बालकनाथ बन रहे हैं. चौधरी की बातें सुनकर बालकनाथ ने मुस्कुराते हुए हाथ जोड़ लिया. 

राजस्थान है कर्मभूमि

बात बाबा बालकनाथ की करें तो उनकी जन्मभूमि हरियाणा है लेकिन कर्मभूमि राजस्थान है. 2019 में बालकनाथ ने अलवर सीट से कांग्रेस के भंवर जितेंद्र सिंह को मात दी थी और सांसद चुने गए थे. बाबा बालकनाथ हिंदुत्व की राजनीति करते हैं जिसके बाद पार्टी ने उन्हें तिजारा विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा था. बाबा बालकनाथ बीजेपी की तरफ से सबसे पसंदीदा चेहरों में शामिल रहे हैं. 

हरियाणा में हुआ जन्म

महंत बालकनाथ का जन्म 16 अप्रैल 1982 में हरियाणा के कोहराणा गांव में हुआ था. बालकनाथ यादव जाति (ओबीसी) से आते हैं. साथ ही नाथ संप्रदाय के आठवें मुख्य महंत भी हैं. महंत चांदनाथ ने 29 जुलाई 2016 को बालकनाथ को उत्तराधिकारी घोषित किया था. नाथ संप्रदाय की सबसे बड़ी गद्दी अस्थल बोहर नाथ आश्रम के महंत हैं.

हिंदुत्व की राजनीति 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरह बालकनाथ भगवा कपड़ा पहनते हैं और खुलकर हिंदुत्व की बात करते हैं. बाबा बालकनाथ का अलवर और उसके आसपास के जिलों में काफी असर माना जाता है. बाबा बालकनाथ को बीजेपी राजस्थान में हिंदुत्व के चेहरे के तौर पर प्रमोट कर रही है. यही वजह है कि बालकनाथ को राजस्थान का 'योगी' कहा जाता है.

चौंकाने वाला हो सकता है फैसला

यहां ये भी बता दें कि, राजस्थान में सीएम पद को लेकर कई नामों पर चर्चा हो रही है. पार्टी की ओर से इस बार पीएम मोदी के नाम पर चुनाव लड़ा गया था. चुनाव से पहले मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा नहीं की गई थी. चुनाव जीतने के बाद कहा जा रहा है कि विधायकों की बैठक के बाद जिनके नामों का सुझाव आएगा, उस पर पार्टी फैसला कर मुख्यमंत्री का चेहरा तय कर देगी. माना जा रहा है कि बीजेपी हाईकमान का फैसला चौंकाने वाला हो सकता है.