menu-icon
India Daily
share--v1

Punjab Budget 2024: पंजाब में 'AAP' का बजट, किसको क्या मिला, जानें

Punjab Budget 2024: पंजाब में 2,04,918 करोड़ का बजट पेश किया गया है. वित्त मंत्री हरपाल चीमा ने कहा कि बजट में मुख्य रूप से स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र पर ध्यान दिया गया है.

auth-image
India Daily Live
Punjab Budget 2024

Punjab Budget 2024: आम आदमी पार्टी सरकार ने पंजाब विधानसभा में अपना दूसरा बजट पेश कर दिया है. साल 2024-25 के लिए यह बजट 2 लाख 4 हजार 918 करोड़ रुपये है. पंजाब में पहली बार बजट 2 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा है. बजट भाषण की शुरुआत में वित्त मंत्री हरपाल चीमा ने कहा कि पिछले दो साल में 40 हजार से ज्यादा नौकरियां दी गई हैं. उन्होंने कृषि के लिए 13 हजार 784 करोड़ रुपये का बजट रखा. उन्होंने स्कूली शिक्षा के लिए 16 हजार 967 करोड़ रुपये का बजट रखा.

वित्त मंत्री ने कहा कि उनकी सरकार के दौरान विकास दर 13 फीसदी तक पहुंच गई है. जबकि पिछली सरकारों के दौरान यह बहुत कम था. उन्होंने 2013 से 2022 तक की विकास दर की गणना की. वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार खेतों के अंतिम छोर तक नहर का पानी पहुंचा रही है. वह पंजाब को रेगिस्तान बनने से बचाने की कोशिश कर रही है. किसानों को मुफ्त बिजली की सुविधा जारी रहेगी. इसके लिए 9330 करोड़ रुपये का बजट आरक्षित किया गया है.

कृषि के लिए 13,784 करोड़ का बजट पारित

कृषि के लिए 13,784 करोड़ रुपये का बजट पारित किया गया है. इसमें गन्ना किसानों के लिए 467 करोड़ रुपये की धनराशि आरक्षित की गई है. इसके साथ ही अगले वर्ष के लिए 390 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है.

16 हजार 987 करोड़ रुपये का शिक्षा बजट रखा 

शिक्षा के स्तर को ऊपर उठाने के लिए सरकार ने इस साल 16 हजार 987 करोड़ रुपये का बजट रखा है. जो कुल बजट का 11.5 फीसदी है. अब तक 118 उत्कृष्ट विद्यालय स्थापित किये जा चुके हैं. ये सभी सरकारी स्कूल हैं. इसके साथ ही 15 स्कूल भी शुरू किये गये हैं. इन स्कूलों के लिए 100 करोड़ रुपये रखे गए हैं. स्कूल ऑफ एक्सीलेंस के लिए 10 करोड़ रुपये का प्रारंभिक प्रस्ताव बनाया गया है. इसमें 6वीं से 12वीं कक्षा तक के स्कूलों की गुणवत्ता में सुधार करना है. इसके साथ ही स्कूल ऑफ एप्लाइड लर्निंग को प्रशिक्षण के लिए रखा गया है. दस करोड़ रुपये रखे गए हैं.

तकनीकी शिक्षा के लिए 525 करोड़ आरक्षित

सरकार ने उच्च शिक्षा के लिए 80 करोड़ रुपये आरक्षित किये हैं. छात्रवृत्ति योजना के लिए छह करोड़ रुपये और सेनेटरी नैपकिन के लिए पांच करोड़ रुपये रखे गये हैं. तकनीकी शिक्षा के लिए 525 करोड़ का प्रस्ताव किया गया है.

खेलों के लिए 272 करोड़

पंजाब सरकार ने राज्य में खेलों के लिए 272 करोड़ रुपये का बजट रखा है. पूरे पंजाब में एक हजार खेल नर्सरियां स्थापित की जाएंगी. पहले चरण में 250 खेल नर्सरियां स्थापित की जाएंगी. इसके लिए शुरुआती बजट 50 करोड़ रुपये रखा गया है. महाराजा भूपिंदर सिंह स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के लिए 34 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है.

 स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 5264 करोड़ रुपये का बजट

आम आदमी क्लिनिक के लिए 249 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है. फ़रिश्ते योजना के लिए 20 करोड़ रुपये, आयुष्मान भारत के लिए 553 करोड़ रुपये, नशा मुक्ति परियोजना के लिए 70 करोड़ रुपये और 58 नई एम्बुलेंस के लिए 100 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है.