share--v1

सजा देने के बहाने विपक्षी सांसदों को लंच पर ले गए PM मोदी, पाकिस्तान जाने समेत इन सवालों के दिए जवाब

PM मोदी ने संसद भवन की कैंटीन में अलग-अलग राजनीतिक दलों के सांसदों के साथ लंच किया. पीएम मोदी ने दाल चावल और खिचड़ी खाई. इस दौरान पीएम मोदी ने सांसदों ने अपने निजी अनुभव और सुझाव शेयर किए.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते शुक्रवार को लोकसभा की कार्यवाही के दौरान नए संसद भवन की कैंटीन में विपक्ष के 8 सांसदों के साथ लंच किया. पीएम मोदी के साथ कैंटीन में लंच करने वाले 8 सांसदों में BJP सांसद एल मुरूगन, BSP सांसद रितेश पांडे, आरएसपी सांसद एनके प्रेमचंद्रन, बीजेडी सांसद डॉ. सस्मित पात्रा, टीडीपी सांसद राम मोहन नायडू के अलावा बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल, एस फांगनॉन कोन्याक थे. 

दरअसल विपक्ष के 8 सांसदों को शुक्रवार को PMO की तरफ से फोन करके यह बताया गया कि प्रधानमंत्री मोदी उनसे मिलना चाहते हैं. जब ये सभी आठों सांसद पीएमओ पहुंचे तो उन्हें थोड़ी देर इंतजार करने के लिए कहा गया. उसके थोड़ी देर बाद पीएम मोदी उन सांसदों से मुखातिब होते हुए कहा कि चलिए आज मैं आपको एक सजा सुनाता हूं. उसके बाद प्रधानमंत्री सभी सांसदों को संसद भवन की पहली मंजिल पर बनी कैंटीन में लेकर गए और उनके साथ लंच किया. लंच में उन्होंने दाल-चावल, खिचड़ी, पनीर की सब्जी, रागी और तिल की बनी मिठाई खाई. साथ ही खाने का बिल का पेमेंट खुद पीएम मोदी ने किया. 

PM मोदी ने तस्वीरों को किया शेयर 

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर तस्वीरों को शेयर करते हुए पीएम मोदी ने लिखा "आज दोपहर में शानदार भोजन का आनंद लिया. विभिन्न दलों और देश के विभिन्न हिस्सों से आए सांसदों के सहयोग से यह और भी बेहतर बन गया."

पीएम मोदी ने सांसदों को बताया अपनी लाइफ स्टाइल

पीएम और सांसदों का लंच करीब 45 मिनट तक चला. इस दौरान सांसदों ने प्रधानमंत्री मोदी से उनके बिजी शेड्यूल के बीच लाइफ स्टाइल मैनेज करने को लेकर सवाल किया. जिसके जवाब में पीएम मोदी ने सिर्फ साढ़े 3 घंटे सोने, सूर्यास्त के बाद डिनर नहीं करने और अपनी विदेश यात्राओं के बारे में सांसदों को बताया. प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों से खिचड़ी को अपना पसंदीदा डिश भी बताया. पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि वह भी एक इंसान हैं. वह हमेशा प्रधानमंत्री की तरह नहीं रहते और वह भी लोगों से बात करते हैं. उनका मन हुआ कि आप के साथ चर्चा करें और खाना खाएं. इस वजह से आप सभी को बुला लिया.

Also Read

First Published : 10 February 2024, 08:16 AM IST