menu-icon
India Daily
share--v1

ये तस्वीर कुछ कहती है! NDA में किसे मिलेगी कितनी जगह? समझें समीकरण

NDA Meeting: चुनाव जीतने के बाद NDA की बैठक दिल्ली में संपन्न हुई. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर से NDA का नेता चुन लिया गया. हालांकि, बैठक में सबसे खास है यहां बैठने का क्रम. आइये जानें तस्वीर के मायने.

auth-image
India Daily Live
NDA meeting delhi
Courtesy: IDL

NDA Meeting: लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों के बाद से ही मीटिंग और मुलाकातों का दौर जारी है. नेता एक दूसरे से मिल रहे हैं. उनके मिलने की तस्वीरें और खबरें सुर्खियों में है. इस बीच सबसे बड़ा गठबंधन बनकर उभरे NDA की बैठक का आयोजन किया गया. इसमें गठबंधन से सभी नेता शामिल हुए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर से गठबंधन का नेता चुन लिया गया. हालांकि, यहां नेताओं के बैठने का क्रम काफी कुछ कह रहा है.

प्रधानमंत्री आवास में आयोजित NDA की बैठक में गठबंधन में सीटें जीतने वाले सभी दलों के नेता शामिल हुए हैं. इसमें सबसे ज्यादा नजरें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और TDP नेता चंद्रबाबू नायडू पर बनी रही. आइये देखें यहां बैठने का क्रम और समझें तस्वीरों के मायने.

कैसा रहा मीटिंग रूम?

प्रधानमंत्री आवास में NDA की बैठक हुई. इसके बाद एक ग्रुप फोटो ली गई. दोनों जगहों पर देखा जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दोनों ओर तीन सदस्य हैं. एक तरफ को पहले बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, उनके बाद राजनाथ सिंह और सबसे आखिरी में अमित शाह बैठें हैं. हालांकि, सबसे खास प्रधानमंत्री के बाईं ओर बैठे नेताओं की तस्वीर है. प्रधानमंत्री के बाएं सबसे पहले चंद्रबाबू नायडू, उनके बाद नीतीश कुमार और सबसे आखिरी में एकनाथ शिंदे बैठे हैं.

कुछ ऐसा ही नजारा बैठक के बाद ली गई ग्रुप फोटो में दिखा. हालांकि, इसमें प्रधानमंत्री के दाईं ओर अमित शाह के बाजू में एचडी कुमारस्वामी खड़े हैं. वहीं प्रधानमंत्री के बाईं ओर एकनाथ शिंदे के बाद NCP (अजीत पवार) के प्रफुल्ल पटेल खड़े हैं और उनके बाद जीतनराम मांझी खड़े हैं.

पीछे की पंक्ति में दिखे ये नेता

चिश्चिराग पासवान-LGP (RV) पवन कल्याण-JSP, सुनील तटकरे- राकांपा, अनुप्रिया पटेल- AD(S), जयंत चौधरी- रालोद, प्रमोद बोरो- UPPAL, अतुल बोरा- AGP, इंद्रा हैंग सुब्बा- SKM, सुदेश महतो-AJSU

क्या कहती हैं तस्वीरें?

तस्वीरों को देखकर माना जा रहा है कि चंद्रबाबू नायडू की बात को बन गई है लेकिन नीतीश कुमार ने अभी डील डन नहीं की है. वहीं बैठक की तस्वीरों में दिख रहा है की एकनाथ भी कुछ खास खुश नहीं है. नीतीश कुमार को लेकर कहा जा रहा है उनके चेहरे पर उनकी तबीयत का असर दिख रहा है. चुराग भले पीछे खड़े हैं लेकिन उनके चेहरे के एक्सप्रेशन बता रहे हैं कि वो काफी खुश हैं.

क्या है नेताओं का स्टेक?

NDA की 292 सीटों की बात करें तो इसमें से BJP को 240 सीटें मिली हैं. इसके बाद आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू की TDP ने 16 सीटें जीती है. वहीं नीतीश कुमार की JDU ने 12 सीटें पाई हैं. इसके बाद शिवसेना शिंदे गुट के पास 7 सीटें हैं. फिर आता है चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी का नंबर जिन्होंने 5 सीटें हासिल की है. JDS, RLD और JSP को 2-2 सीटें मिली हैं. वहीं AGP, UPPL, AJSUP, NCP, HAM, अपना दल को एक-एक सीट मिली है.

किसे क्या चाहिए?

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, NDA के साथियों ने मंत्रालयों की लिस्ट BJP को सौंप दी है. TDP 6 मंत्रालय और स्पीकर पद की मांग कर रही है. वहीं JDU 3 मंत्रालय चाहती है. इसके अलावा एकनाथ शिंदे और चिराग को 2-2 मंत्री चाहिए. कहा जा रहा है कि जयंत चौधरी को चुनाव से पहले एक मंत्री पद देने की बात कही गई थी. ऐसा ही कुछ अनुप्रिया पटेल के लिए भी कहा जा रहा है. बाकि, छोटे दल किसी मांग को लेकर फिलहाल अड़ नहीं रहे हैं.

क्या करेगी बीजेपी?

NDA में जिसके पास ज्यादा सीटें हैं जाहिर बात है कि उनके पास बारगेन पावर उतनी है. BJP के पास बहुमत न होने के कारण उनकी मांगों को सीरियस लेना होगा. फिलहाल JDU और TDP को साधना बीजेपी के लिए बड़ा टास्क है. चंद्रबाबू नायडू ने तो खुले तौर पर कह दिया है कि वो मोदीजी के नेतृत्व के साथ हैं. लेकिन, नीतीश कुमार ने अभी पत्ते नहीं खोले. इस बीच तेजस्वी यादव के साथ दिल्ली आने की उनकी तस्वीर अलग चर्चा बटोर रही है.