share--v1

Nafe Singh Rathi Murder Case: नफे सिंह राठी हत्याकांड की जांच करेगी CBI, हरियाणा पुलिस ने पकड़े दो आरोपी

Nafe Singh Rathi Murder Case: हरियाणा के बहादुरगढ़ में रविवार शाम को कार सवार बदमाशों ने इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की अंधाधुंध फायरिंग करके हत्या कर दी थी.

auth-image
India Daily Live

Nafe Singh Rathi Murder Case: हरियाणा के झज्जर स्थित बहादुरगढ़ में INLD के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी हत्याकांड में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. हरियाणा पुलिस ने इस हत्याकांड से जुड़े दो आरोपियों को हिरासत में लिया है. सूत्रों का दावा है कि ये दोनों आरोपी हत्याकांड से जुड़े हुए हैं. पुलिस की टीमें इनसे पूछताछ कर रही हैं. उधर बाकी आरोपियों की तलाश में एसटीएफ समेत थाना स्तर पर कई टीमें गठित की गई हैं. 

उधर, हरियाणा पुलिस ने सोमवार को कहा है कि नफे सिंह राठी हत्याकांड की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी गई है. झज्जर के उपायुक्त शक्ति सिंह और पुलिस अधीक्षक अर्पित जैन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सीबीआई जांच की बात की पुष्टि की है. हालांकि एसपी अर्पित जैन ने कहा कि पुलिस ने गोलीबारी के सिलसिले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की है, लेकिन कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है.

हत्याकांड में इस्तेमाल हुए अलग-अलग तरह के हथियार

उपायुक्त शक्ति सिंह ने कहा कि पहचाने गए आरोपियों का पता लगाया जा रहा है. पुलिस की पांच टीमें मामले की जांच कर रही हैं. पुलिस ने कहा कि नफे सिंह राठी को गोली मारने के लिए अलग-अलग तरह के हथियारों का इस्तेमाल किया गया था. उन्होंने घटना स्थल से अलग-अलग तरह के कारतूस बरामद हुए हैं. 

इस बीच नफे सिंह राठी की गोली मारकर हत्या के मामले में कुछ गैंगस्टरों से पूछताछ करने के लिए हरियाणा पुलिस सोमवार को दिल्ली की तिहाड़ जेल पहुंची. अधिकारियों ने बताया है कि पुलिस कुछ दूसरे राज्यों की जेलों में बंद गैंगस्टरों से भी पूछताछ करेंगे.

राठी के परिवार और इनेलो नेता ने की थी CBI जांच की मांग

नफे सिंह राठी के परिवार के सदस्यों और इनेलो नेता अभय चौटाला ने पुलिस को गिरफ्तारी के लिए सात दिन का समय दिया है. कहा है कि अगर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो वे बड़ा फैसला लेंगे. रविवार को राठी की गोली मारकर हत्या के कुछ घंटों बाद चौटाला ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी. उन्होंने मीडिया को बताया था कि पुलिस ने छह महीने पहले नफे सिंह राठी को सूचित किया था कि उसकी जान को खतरा है.

Also Read