menu-icon
India Daily
share--v1

मुस्लिम कोटा, हज सहायता और Freebies; TDP के वादों पर कितना साथ दे पाएगी BJP?

TDP Muslim Quota Promises: लोकसभा चुनावों के साथ आंध्र प्रदेश में विधानसभा चुनाव हुए थे. नतीजों में टीडीपी, भाजपा और जनसेना ने बंपर जीत हासिल की. अब बारी चुनावों के दौरान किए गए वादों को पूरा करने की है.

auth-image
India Daily Live
TDP Muslim Quota Promises
Courtesy: Social Media

TDP Muslim Quota Promises: आंध्र प्रदेश चुनाव के लिए चंद्रबाबू नायडू की पार्टी टीडीपी ने भाजपा और पवन कल्याण की पार्टी जनसेना के साथ गठबंधन हुआ था. चुनाव के नतीजे आए तो गठबंधन ने आंध्र प्रदेश में प्रचंड जीत हासिल की. अब बारी सरकार बनाने की है. कहा जा रहा है कि केद्र में मोदी सरकार के शपथ ग्रहण के बाद आंध्र में भी नायडू सरकार का शपथ ग्रहण होगा. आंध्र प्रदेश की 175 सदस्यीय विधानसभा और 25 लोकसभा सीटों के लिए 13 मई को वोटिंग हुई थी. चार जून को आए नतीजों में टीडीपी ने 25 में से 16 लोकसभा सीटों पर कब्जा किया. इसके अलावा, विधानसभा में टीडीपी ने सबसे अधिक 135, जनसेना ने 21 और भाजपा 8 सीटों पर कब्जा जमाया.

वोटिंग से पहले चंद्रबाबू की टीडीपी ने अपना मेनिफेस्टो जारी कर राज्य में मुस्लिम कोटा, हज सहायता के साथ-साथ फ्रीबिज की चर्चा भी की थी. अब चूंकि राज्य में गठबंधन की सरकार बननी तय है. ऐसे में सवाल ये है कि मुस्लिम आरक्षण को लेकर खिलाफत करने वाली भाजपा, टीडीपी के वायदों पर उसका कितना साथ दे पाएगी.

नायडू की ओर से हज सहायता का किया गया था वादा

चंद्रबाबू नायडू की ओर से नेल्लोर में मुस्लिम समुदाय के साथ बातचीत हुई थी. इस दौरान नायडू की ओर से वादा किया गया था कि सरकार बनने के बाद हज के लिए मक्का जाने वाले मुस्लिम तीर्थयात्रियों को 1 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी. इस दौरान नायडू ने अपनी पिछली सरकार के कार्यकाल के दौरान मुस्लिमों के लिए किए गए कार्यों को भी रिकॉल कराया. इसमें उर्दू यूनिवर्सिटी और हज हाउस की स्थापना करना शामिल था. उन्होंने मुस्लिम समुदाय का समर्थन न करने के लिए मौजूदा वाईएसआरसीपी सरकार की आलोचना की और एनआरसी के लिए उनके समर्थन का आरोप लगाया.

नायडू ने कहा कि हालांकि टीडीपी पहले भी एनडीए का हिस्सा थी, लेकिन उसने कभी भी समुदाय के साथ किसी तरह का अन्याय नहीं होने दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि वाईएसआरसीपी प्रमुख और मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने पिछले पांच सालों में एक भी मस्जिद बनवाने की कोशिश नहीं की. नायडू ने कहा कि वाईएसआरसीपी सरकार ने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और केंद्र सरकार की अन्य पहलों के लिए बिना शर्त समर्थन दिया है. 

नायडू के बेटे ने शुक्रवार को किया 4 फीसदी आरक्षण को बरकरार रखने का वादा

एक दिन पहले ही एन चंद्रबाबू नायडू के बेटे नारा लोकेश ने आंध्र प्रदेश में मौजूदा मुस्लिम कोटा का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि यदि समाज का एक विशेष वर्ग गरीबी में रहता है तो कोई राष्ट्र या राज्य प्रगति नहीं कर सकता. टीडीपी महासचिव नारा लोकेश ने ओबीसी सूची के तहत मुस्लिम समुदाय को दिए गए 4 प्रतिशत आरक्षण को बरकरार रखने का वादा किया. इसके अलावा, टीडीपी की एनडीए सहयोगी भारतीय जनता पार्टी ने धार्मिक आधार पर आरक्षण देने के लिए तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक की सरकारों पर हमला किया था.

नारा लोकेश ने कहा कि अगर समाज का एक खास वर्ग गरीबी में जी रहा है तो कोई देश या राज्य तरक्की नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी है कि वह वंचित समुदायों को अवसर उपलब्ध कराए. उन्होंने कहा कि मुसलमानों को आरक्षण देने का फैसला किसी को खुश करने के लिए नहीं लिया गया है. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि मुसलमानों को 4 प्रतिशत आरक्षण देने का निर्णय इसी परिप्रेक्ष्य में लिया गया है, किसी को खुश करने या राजनीतिक लाभ पाने के लिए नहीं.

नारा लोकेश ने पीटीआई को बताया कि उनकी पार्टी बिना शर्त नरेन्द्र मोदी का समर्थन करेगी. उन्होंने कहा कि हम चुनाव से पहले बिना शर्त एनडीए में शामिल हुए थे, हम बिना शर्त एनडीए में बने रहेंगे... हमारा मानना ​​है कि उन्हें (मोदी को) भारत का प्रधानमंत्री होना चाहिए. उन्होंने संकेत दिया कि टीडीपी उनके समर्थन का लाभ उठाकर अपनी मांगों पर जोर देगी. उन्होंने कहा कि अग्निवीर, समान नागरिक संहिता, आरक्षण, बजट आवंटन, विकास जैसी 100 चीजें हैं, जिन पर बातचीत के जरिए बात की जा सकती है.