share--v1

महाराष्ट्र में टूटने से बचा NDA का महायुति गठबंधन, जानें कैसे अजित की NCP से शिंदे की शिवसेना में बनी बात

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव से पहले अजित पवार को बड़ी राहत मिली है. दरअसल, बारामती लोकसभा सीट को लेकर जारी खींचतान पर अब विजय शिवतारे ने विराम लगा दिया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि वह अजित पवार के उम्मीदवार के लिए प्रचार करेंगे.

auth-image
India Daily Live

Lok Sabha Election 2024: अजित पवार गुट वाली एनसीपी को बड़ी राहत मिली है. बारामती लोकसभा सीट को लेकर जारी महायुति गठबंधन शिवसेना और एनसीपी अजित पवार गुट में जारी खींचतान पर अब विराम लग गया है. बारामती सीट पर अब अजित पवार गुट का मुकाबला अब शरद पवार के नेतृत्व वाली एनसीपी से होगी.

विजय शिवतारे ने कहा कि कुछ दिन पहले मैंने सीएम एकनाथ शिंदे, डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार के साथ चर्चा की थी. इस दौरान मैंने अपनी सारी बातें उनके सामने रखी और फिर उन्होंने मेरी परेशानियों को दूर करने का आश्वासन दिया. इसके साथ ही उन्होंने मुझसे बारामती से चुनाव नहीं लड़ने का अनुरोध किया है.

विजय शिवतारे ने किया था बगावत का फैसला

दरअसल, शिवसेना एकनाथ शिंदे गुट के नेता विजय शिवतारे ने बीते दिनों गठबंधन से बगावत करने का फैसला लिया था. वह बारामती लोकसभा सीट से अजित पवार की पत्नी खिलाफ नॉमिनेशन करने वाले थे. बता दें कि शिवतारे ने बारामती सीट पर चुनाव लड़ने के लिए अभियान भी चलाया था. विधानसभा चुनाव 2019 के दौरान हुई हार के लिए उन्होंने अजित पवार को दोषी ठहराते हुए कथित तौर पर ऐसा कहा था कि लोकसभा चुनावों ने वह पवार के साथ हिसाब बराबर करेंगे.

राजनीति में कोई स्थायी दोस्त या दुश्मन नहीं- शिवतारे

बारामती सीट छोड़ने के फैसले पर विजय शिवतारे ने कहा कि मैदान से हटने का मेरा फैसला यह सुनिश्चित करना है कि गठबंधन में मेरे कारण मुख्यमंत्री को समस्याओं का सामना न करना पड़े. मैं केवल उस चिंता के कारण सहमत हुआ. शिवतारे ने आगे कहा कि राजनीति में कोई स्थायी दोस्त या दुश्मन नहीं होता. हमने अजित पवार के साथ मतभेदों को भुला दिया है और उनके उम्मीदवार के लिए प्रचार करेंगे.

बारामती में किसके बीच है टक्कर

बारामती लोकसभा सीट से एनसीपी शरद पवार गुट ने मौजूदा सांसद सुप्रिया सुले को टिकट देकर चुनावी मैदान में उतारा है. वहीं दूसरी तरफ एनसीपी अजित पवार गुट की ओर से अजीत पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार को टिकट मिलना तय है. आपको बताते चलें, बारामती सीट के लिए 7 मई को वोट डाले जाएंगे.

Also Read