share--v1

Lok Sabha Elections 2024: कौन हैं नवनीत कौर राणा जिन्होंने उद्धव ठाकरे को पिलाया था पानी, अब BJP ने अमरावती से उतारा

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय जनता पार्टी ने महाराष्ट्र की अमरावती लोकसभा सीट से नवनीत कौर राणा को अपना प्रत्याशी बनाया है. इस सीट पर कभी शिवसेना का दबदबा हुआ करता था.

auth-image
India Daily Live

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बुधवार को लोकसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की सातवीं लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में पार्टी ने महाराष्ट्र की अमरावती लोकसभा सीट से नवनीत राणा को उम्मीदवार बनाया है. जबकि कर्नाटक की चित्रदुर्ग सीट से भाजपा ने गोविंद करजोल के नाम की घोषणा की है.  

नवनीत राणा का पूरा नाम नवनीत कौर राणा है. वे अमरावती से मौजूदा सांसद हैं. साल 2019 में उन्होंने शिवसेना के आनंदराव अडसुल को हराकर एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में इस सीट पर कब्जा किया था. 

अप्रैल 2022 में मुंबई पुलिस ने नवनीत राणा के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज की, जब उन्हें और उनके पति को तत्कालीन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की धमकी दी थी. आरोप था कि उनके इस काम से कथित तौर पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी पैदा करने के लिए गिरफ्तार किया गया था.

जानिए कौन हैं नवनीत कौर राणा?

नवनीत कौर राणा को नवनीत रवि राणा के नाम से भी जाना जाता है. इनका जन्म और पालन-पोषण मुंबई में हुआ है. नवनीत एक सेना अधिकारी की बेटी हैं. उन्होंने अपनी 10वीं कक्षा कार्तिका हाई स्कूल से पूरी की है. 12वीं क्लास की पढ़ाई पूरी करने के बाद नवनीत ने एक मॉडल के रूप में काम करना शुरू किया और छह म्यूजिक वीडियोज में भी काम किया. 

इसके बाद उनका फिल्मी करियर शुरू हुआ. शुरुआती दौर में नवनीत ने कन्नड़, तेलुगु और मलयालम फिल्मों में काम किया. रवि राणा से शादी करने के बाद नवनीत साल 2014 के लोकसभा चुनाव में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार के रूप में खड़ी हुई, लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी. 

बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाया था 2 लाख का जुर्माना

लोकसभा चुनाव 2019 में नवनीत कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के समर्थन से एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में अमरावती से सांसद चुनी गईं. रिपोर्ट्स के अनुसार, फर्जी जाति प्रमाण पत्र जमा करने के एक मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने साल 2021 में 2 लाख रुपये का जुर्माना लगाया. 

नवनीत राणा का अक्सर शिवसेना और उनकी पार्टी के सदस्यों के साथ विवाद रहने से सुर्खियों में रहती हैं. अमरावती में नवनीत राणा की जीत को इसलिए भी खास माना जाता है क्योंकि ये शिव सेना के दबदबे वाला क्षेत्र है. अब नवनीत राणा को भाजपा ने अमरावती से पार्टी का उम्मीदवार घोषित किया है. 

Also Read