share--v1

करोड़ों की मालकिन का राजमिस्त्री पर आया दिल... फिर महिला ने पति को दी ऐसी खौफनाक मौत कि कांप जाएगी रूह

4 नवंबर को सुबह टहलते समय राजेश गौतम की कार से कुचल कर मौत हो गई. पुलिस भी प्रारंभिक जांच में इसे हादसा मान रही थी, लेकिन राजेश के भाई ने पुलिस को हत्या की आशंका जताते हुए तहरीर दी. जांच में चौंकाने वाला खुलासा हुआ.

auth-image
Om Pratap
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • साल 2001 में राजमिस्त्री ने बनाया था राजेश का घर, पत्नी से हो गए संबंध
  • पति से पीछा छुड़ाने और करोड़ों की संपत्ति हड़पने के लिए कर दिया कांड

UP Crime News: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है. यहां एक महिला ने राजमिस्त्री से अवैध संबंध और करोड़ों की संपत्ति हड़पने के लिए अपने ही पति के बेरहमी से हत्या करा दी. इतना ही नहीं, पति की हत्या को हादसा साबित करने की भी कोशिश की, लेकिन एक शिकायत पर पुलिस का माथा ठनका और केस की जांच शुरू की गई. जैसे ही सच्चाई सामने आई तो पुलिस ने महिला, उसकी राजमिस्त्री प्रेमी और साथियों को गिरफ्तार कर लिया है. 

सुबह टहलते समय की गई वारदात

जानकारी के मुताबिक मामला कानपुर के चकेरी थाना क्षेत्र के कोयलानगर इलाके का है. यहां राजेश गौतम (41) अपनी पत्नी उर्मिला उर्फ पिंकी और बच्चों के साथ रहते थे. राजेश पेशे से एक टीचर थे. बताया गया है कि 4 नवंबर को सुबह टहलने के दौरान उनकी कार से कुचल कर मौत हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेजा. पुलिस भी प्रारंभिक जांच में इसे हादसा मान रही थी, लेकिन राजेश के भाई ने पुलिस को हत्या की आशंका जताते हुए तहरीर दी. 

सीसीटीवी फुटेज ने खोल दी पूरी कहानी

तहरीर मिलने पर पुलिस ने केस की गंभीरता के साथ छानबीन शुरू की. पुलिस ने घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज निकाले. फुटेज देखे तो दाल में कुछ काला नजर आया. घटना असामान्य थी, क्योंकि जिस कार से हादसा हुआ था उसने राजेश को कई बार कुचला था. यहीं से पुलिस का माथा ठनक गया. इसके बाद पुलिस ने उर्मिला की कॉल डीटेल निकाली. देखा कि वारदात वाले समय पर उसने किसी से बात की. नंबर निकाला तो वह शैलेंद्र सोनकर का निकला.

शैलेंद्र को उठाया तो खुल गया केस

इसके बाद पुलिस ने शैलेंद्र को उठाया. पूछताछ के आधार पर पुलिस ने शैलेंद्र के चचेरे भाई और एक साथी को गिरफ्तार किया. पूछताछ में पूरी कहानी खुल गई. शैलेंद्र ने पुलिस को बताया कि साल 2001 में उसने राजेश का घर बनाया था. इसके बाद उसके उर्मिला के साथ अवैध संबंध हो गए. उधर, उर्मिला राजेश से पीछा छुड़ाना चाहती थी. उसने बताया कि राजेश उसे मारता पीटता था. बस फिर क्या था, उर्मिला ने शैलेंद्र के साथ मिलकर राजेश की हत्या की कहानी लिख डाली. साथ ही बताया गया है कि राजेश के नाम पर करीब 45 करोड़ रुपये की संपत्ति थी. उर्मिला उसे भी हड़पना चाहती थी. पुलिस ने फिलहाल सभी को गिरफ्तार कर लिया है. 
 

Also Read

First Published : 30 November 2023, 10:49 PM IST