menu-icon
India Daily
share--v1

जम्मू-कश्मीर आतंकी हमला; रियासी पहुंची NIA की टीम, ड्रोन से आतंकियों की तलाश, बड़े एक्शन की तैयारी

जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बाद सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है. NIA की जांच के लिए पहुंच गई है. आतंकियों को खोजने के लिए जंगल के ऊपर ड्रोन मंडरा रहे हैं. इस हमले में 9 लोगों की मौत हो गई है और 32 लोग घायल हुए हैं.

auth-image
India Daily Live
terror attack in reasi
Courtesy: Social Media

जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में हुए आतंकी हमले में 9 लोगों की मौत हो गई है और 32 लोग घायल हुए हैं. आतंकियों ने श्रर्द्धालुओं से भरे बस पर गोलीबारी की. बस शिवखोड़ी से कटरा लौट रही थी. आतंकियों ने करीब 30 से 40 राउंड फायरिंग की. आतंकियों की फायरिंग में बस ड्राइवर को एक गोली लग गई, जिससे ड्राइवर ने गाड़ी पर संतुलन खो दिया और बस गहरी खाई में गिर गई. इस घटना के बाद पूरे इलाके को सुरक्षाबलों ने घेर लिया है. ड्रोन से जंगल में तलाशी जारी है. 

आसपास घने जंगलों में तलाशी अभियान में ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है. NIA की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है और जांच कर रही है. हमले के बाद अब सुरक्षा बल बड़े एक्शन की तैयारी कर रही है. उपराज्यपाल  मनोज सिंहा ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई है. माना जा रहा है कि दो से तीन आतंकियों ने इस कायराना हरकत को अंजाम दिया है. 

पाकिस्तानी मूल के हैं आतंकी!

सूत्रों की कहना है कि ये आतंकी पाकिस्तानी मूल के हैं. हमले के वक्त सेना की बर्दी पहने हुए थे. हमले को अंजाम देने के बाद आतंकी जंगल में फरार हो गए. पुलिस और सेना की टीम सर्च ऑपरेशन चला रही है. ड्रोन से जंगलों में नजर रखी जा रही है. आतंकी जहां भी छिपे होंगे उन्हों खोजने की कोशिश जारी है. 

बस में सवार थे 40 से ज्यादा लोग

बस में सवार एक पीड़ित और प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि मैंने एक आतंकवादी को बस पर गोलीबारी करते देखा. बस के खाई में गिरने के बाद भी एक आतंकवादी 20 मिनट तक गोली चलता रहा. बस पर लगभग 20 से 30 गोली चलाई गई. हादसे की शिकार बस शिव खोड़ी से लौट रही थी. तीर्थयात्री शिवखोड़ी में भोले बाबा के दर्शन करने के बाद वापस कटरा लौट रहे थे.  बताया जाता है कि आतंकियों ने पौनी और रनसू के बीच चंडी मोड पर स्थित दरगाह के पास बस पर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं. बस में 40 से ज्यादा लोग सवार थे. 

हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा-अमित शाह

आतंकी हमले के पर अमित शाह का भी बयान आया है. उन्होंने सोशल मी़डिया पर लिखा कि जम्मू-कश्मीर के रियासी में तीर्थयात्रियों पर हुए हमले की घटना से बहुत दुखी हूं. उपराज्यपाल और डीजीपी, जम्मू-कश्मीर से बात की और घटना के बारे में जानकारी ली. इस कायराना हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा और उन्हें कानून के शिकंजे में लिया जाएगा.. स्थानीय प्रशासन तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रहा है. ईश्वर मृतकों के प्रियजनों को इस पीड़ा को सहने की शक्ति प्रदान करें. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की भी प्रार्थना करता हूं.

जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने लिखा की मैं रियासी में बस पर हुए कायरतापूर्ण आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता हूं. शहीद हुए नागरिकों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं. हमारे सुरक्षा बलों और JKP ने आतंकवादियों की तलाश के लिए एक संयुक्त अभियान शुरू किया है.