menu-icon
India Daily
share--v1

कैसे होगी ट्रेन में भीड़ कम, खत्म होगी लेट लतीफी! रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को मिला धांसू प्लान

Indian Railway News: गर्मी की छुट्टी और शादियों का सीजन आते ही फिर से ट्रेनों में भीड़ बढ़ने लगी है. इतना ही नहीं गाड़ियां अपने समय से काफी देरी से भी चल रही हैं. ऐसी ही तमाम समस्याओं को देखते हुए रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने आज विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक की इसमें इन तमाम समस्याओं के हल को लेकर चर्चा की गई. यहां अधिकारियों ने रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव के सामने अपना प्लान रखा और उसे लागू करने के बारे में बताया.

auth-image
India Daily Live
Indian Railway News
Courtesy: IDL

Indian Railway News: भारतीय रेल...जहन में नाम आते ही भीड़ भाड़, देरी और गंदगी नजर आने लगती है. हालांकि, पिछले कुछ सालों में रेलवे की ये तस्वीर बदली है. रेल प्रशासन और सरकार ने लगातार इसपर काम किया है. हालांकि, पीक सीजन में समस्याएं तमाम कोशिशों के बाद बढ़ ही जाती है. इसी को देखते हुए आज रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अपने मंत्रालय के आला अधिकारियों और रेल बोर्ड के अधिकारियों के साथ बैठक की. इसमें यात्रियों को आ रही तमाम समस्याओं पर चर्चा की गई. यहां अधिकारियों ने उनके सामने इन समस्याओं के हल को लेकर प्लान रखा है.

भरी गर्मी के बीच छुट्टियों और शादियों के सीजन करीब आने के कारण इन दिनों रेलवे पर लोड बढ़ रहा है. ऐसे में देखा जाता है कि ट्रेन काफी लेट होती हैं साथ ही ये काफी देरी से भी चलने लगती है. इतना ही नहीं लोग बिना टिकट यात्रा करते हैं. ऐसे में बैठक में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा के साथ कोई ‘समझौता’ नहीं होना चाहिए.

अधिकारियों ने सामने रखा प्लान

वैष्णव ने उच्च स्तरीय बैठक में अधिकारियों को ट्रेनों में भीड़भाड़ रोकने का निर्देश दिए. इसपर उनके सामने अधिकारियों ने बताया कि वो यात्री सुरक्षा और सुविधाओं विस्तृत प्लान बना रहे हैं. भीड़भाड़ से बचने के लिए व्यस्त मार्गों की पहचान की जा रही है जहां विशेष ट्रेनें चलाई जाएंगी. हमारी प्राथमिकता सेवाओं में सुधार के साथ ही समयबद्धता पर ध्यान देना है.

यात्री सुविधाओं में विस्तार

एक अधिकारी ने बताया कि गर्मियों में भीड़ के दौरान स्टेशनों पर एसी, पंखे और वाटर कूलर जैसे उपकरणों की जरूरत और आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है. बैठक में रेल मंत्री ने इस चीज पर जोर दिया को ट्रेनों का समय पर चलाया जाए. इसके साथ ही ये देखा जाए की उन्हें असुविधा नहीं होनी चाहिए. समय की पाबंदी और ट्रेनों के बिना स्टॉप रुकने के मूल कारण का पता लगाकर उसे दूर करने के निर्देश दिए गए हैं.