menu-icon
India Daily
share--v1

किसानों की मौज! ये राज्य सरकार माफ करेगी 2 लाख रुपये तक का लोन, कृषि मंत्री के निर्देश

Farmer Loan Waiver: साल 2024 में लोकसभा चुनावों के बाद अब कुछ महीनों बाद कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसके लिए सरकारों ने अभी से वोटरों को लुभाने का काम शुरू कर दिया है. चूंकि झारखंड में भी इसी साल विधानसभा के चुनाव होने हैं. ऐसे में वहां की सरकार ने अपने वादे से भी आगे बढ़कर किसानों को राहत दी है. एक बार कर्जमाफी के बाद अब सरकार किसानों को एक और कर्ज माफी देने जा रही है. आइये जानें पूरा फैसला

auth-image
India Daily Live
Jharkhand Farmer Loan Waiver
Courtesy: IDL

Farmer Loan Waiver: लोकसभा चुनावों के बाद अब कई राज्यों की विधानसभाओं के लिए चुनाव होने हैं. इससे पहले स्थानीय सरकारें और विपक्ष ने कमर कस ली है. सरकार योजनाओं और घोषणाओं के जरिए वोटरों को लुभाने और उन्हें राहत देने का काम कर रही है. इसी क्रम में झारखंड सरकार ने अपने वादे से आग बढ़कर 50 हजार रुपये की लोन माफी को 2 लाख रुपये करने जा रही है. इसके संबंध में कृषि मंत्री ने अधिकारियों को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं. इससे राज्य के लाखों किसानों को फायदा होगा.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने इस संबंध में निर्देश दिए हैं. उन्होंने ये फैसला राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में अधिकारियों को दिया है. उन्होंने कर्जमाफी के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा है. इससे 1.91 लाख से अधिक किसानों को राहत मिलेगी.

बैंको को राशि की गई जारी

कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि 31 मार्च 2020 तक किसानों ने जो 50,000 रुपये से 2 लाख रुपये तक के लोन लिए हैं. उन्हें एकमुश्त निपटान के जरिए माफ किया जाएगा. उन्होंने बताया कि पहले सरकार ने 2021-22 के लिए 50,000 रुपये तक के ऋण माफी की घोषणा की थी. जानकारी के अनुसार, राज्य सरकार ने अभी तक 4.73 लाख से अधिक किसानों के कर्ज माफ करने के लिए बैंकों को 1,900 करोड़ रुपये जारी किए हैं.

वादे से आगे निकली सरकार

बता दें इसी साल की फरवरी में नए मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए 1.28 लाख करोड़ का बजट पेश किया था. इसमें 50 हजार रुपये तक के कर्ज माफ करने की बात कही गई थी. अब इसे बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिए हैं. यानी कृषि ऋण माफी योजना के तहत अब कर्जमाफी की सीमा 2 लाख रुपये हो गई है. अब इसे लेकर कार्य योजना बनाई जा रही है.