share--v1

Haldwani Violence: देवभूमि सुलगाने वाला अब्दुल मलिक गिरफ्तार! जानें कहां छिपा बैठा था हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड?

Haldwani Violence Mastermind Abdul Malik Arrest: हल्द्वानी हिंसा के मास्टर माइंड अब्दुल मलिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. ये दावा मलिक के दोनों वकीनों ने किया है.

auth-image
India Daily Live

Haldwani Violence Mastermind Abdul Malik Arrest: देवभूमि उत्तराखंड के हल्द्वानी जिले को सुलगाने वाला मास्टरमांइड अब्दुल मलिक गिरफ्तार हो गया है. हल्द्वानी के बनभूलपुरा में 8 फरवरी को हुई हिंसा का मास्टरमाइंड घटना के बाद से फरार चल रहा था. आरोपी के वकील अजय बहुगुणा और शलभ पांडे ने दावा किया है कि पुलिस ने मलिक को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. 

उत्तराखंड पुलिस हेडक्वार्टर के प्रवक्ता आईजी नीलेश भरणे की ओर से कहा गया है कि देहरादून-हल्द्वानी के बनभूलपुरा में 8 फरवरी को हुई हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक को उत्तराखंड पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी के दोनों वकीलों की ओर से सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की है, जिसे एडीजे कोर्ट ने खारिज कर दिया है. कोर्ट की ओर से कहा गया है कि इस मामले में अगली सुनवाई 27 फरवरी को होगी.

पुलिस ने की थी इन आरोपियों की पहचान

हल्द्वानी में हिंसा के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक, उसकी पत्नी और करीब छह लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया था. हालांकि घटना के बाद से आरोपी फरार था. पुलिस ने पूरे इलाके में इनके पोस्टर लगाए थे. साथ ही आरोपियों की संपत्ति भी कुर्क की गई थी. पुलिस ने इन आरोपियों की पहचान  तस्लीम, वसीम, अयाज, अब्दुल मोईन, रईस, शकील, मौकिन और जिया उल रहमान के रूप में की थी. 

6 की गई थी जान, 300 से ज्यादा घायल

8 फरवरी को हल्द्वानी के बनभूलपुरा में पुलिस एक स्थान पर अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंची थी. इसी दौरान आरोपियों ने घेराबंदी करके पुलिस पर हमला कर दिया. इस दौरान बड़े स्तर पर इलाके में अराजकता फैल गई. हिंसा में करीब छह लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 300 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे. पुलिस ने घटना के सीसीवीटी कैमरों को खंगालने के बाद 42 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया था. 

कुछ दिन पहले वायरल हुआ था एक वीडियो

कुछ दिन पहले हल्द्वानी हिंसा को लेकर एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. यहां के एसएसपी ने दावा किया था कि हल्द्वानी में दंगा प्रभावित इलाके में लोगों के बीच पैसे बांटे जा रहे थे. एसएसपी ने कहा कि पैसे बांटने वाले लोग हैदराबाद के एक एनजीओ के थे. उन्होंने कहा कि जांच से पता चला है कि एनजीओ 'हैदराबाद यूथ करेज' के कुछ लोगों ने पैसे बांटे हैं. एसएसपी ने कहा कि पैसे के स्रोत और उसको बांटने के लिए उद्देश्य की जांच की जा रही है. पुलिस और अन्य संबंधित विभाग इस मामले में जांच कर रहे हैं. 

Also Read