menu-icon
India Daily
share--v1

'LG साहब वो वीडियो रिलीज कर दें तो...', सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली के उपराज्यपाल को दिया खुला चैलेंज

Delhi Water Crisis Dispute: गर्मी के कारण दिल्ली में जल संकट गहराता जा रहा है. इस बीच सौरभ भारद्वाज और राज्यपाल के बीच ठन गई है. भरद्वाज ने वीडियो जारी कर राज्यपाल को खुला चैलेंज दिया है.

auth-image
India Daily Live
Delhi Water Crisis Dispute
Courtesy: Social Media

Delhi Water Crisis: भीषण गर्मी और बारिश में हो रही देरी के कारण दिल्ली में पानी का संकट गहराया हुआ है. इस बीच प्रदेश में इस संकट पर सियासत भी जारी है. एक ओर दिल्ली सरकार तो एक ओर राज्यपाल हैं. आज दिल्ली सरकार के दो वरिष्ठ मंत्री आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने राज्यपाल वीके सक्सेना से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने एक वीडियो जारी कर LG को खुला चैलेंज किया है. उन्होंने LG पर गलत प्रेस नोट जारी करने का आरोप लगाया है.

बता दें आज ही उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने जल मंत्री आतिशी और शहरी विकास मंत्री सौरभ भारद्वाज ने मुलाकात की थी. उन्होंने हरियाणा से पानी की आपूर्ति को लेकर मुद्दा उठाया था. इसके बाद से ही सौरभ भारद्वाज और राज्यपाल के बीच ठनी है.

सौरभ भरद्वाज ने लगाए आरोप

सौरभ भरद्वाज ने LG से मुलाकात के बाद एक वीडियो जारी किया है. इसमें उन्होंने कहा कि मैं मंत्री होने के नाते पूरी जिम्मेदारी से कह रहा हूं, LG ऑफिस से जो प्रेस रिलीज दी गई है, वो Misleading है. तथ्यों को गलत तरीके से दिखाने की एक ग़लत कोशिश है.

सौरभ ने बोला- जब हम LG  साहब से मीटिंग करने पहुंचे तो उन्होंने उस मीटिंग को रिकॉर्ड करने के लिए 3 कैमरे लगा रखे थे. मैं LG साहब से निवेदन कर रहा हूं, उस मीटिंग की वीडियो पब्लिक डोमेन में डाल दीजिए. दिल्ली और देश की जनता को देखने दीजिए वहां पर क्या चर्चा हुई थी. मैं LG साहब को चुनौती दे रहा हूं.

राजनिवास ने क्या कहा?

9 तारीख को राजनिवास की ओर से एक ट्वीट किया गया था. इसमें कहा गया था कि उपराज्यपाल अधिकारियों से हिमाचल और हरियाणा द्वारा छोड़े जाने वाले पानी की वास्तविक स्थिति, दिल्ली में पानी की बर्बादी और रिसाव को रोकने के उपाय और सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार वजीराबाद जलाशय की सफाई की स्थिति का पता लगाने को कहा है.

आतिशी से मुलाकात में आश्वासन

बता दें कि आज आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली में पानी की कमी को लेकर उपराज्यपाल से मुलाकात की. आतिशी ने बताया था कि सोमवार को उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने उन्हें हरियाणा सरकार से बात करने का आश्वासन दिया है. आतिशी के अनुसार, राज्यपाल ने कहा है कि वो दिल्ली के हिस्से का 1,050 क्यूसेक पानी मुनक नहर में छोड़ने के लिए हरियाणा से बात करेंगे.

क्या है जल विवाद?

दिल्ली और हरियाणा के बीच का जल विवाद दो नहीं बल्कि 5 राज्यों से जुड़ा है. इसमें उत्तर प्रदेश, राजस्थान और हिमाचल भी शामिल हैं. 1954 में यमुना जल समझौता हरियाणा और उत्तर प्रदेश के बीच हुआ था. इसके तहत हरियाणा को 77 प्रतिशत हिस्सा और उत्तर प्रदेश को 23 प्रतिशत मिलना था.

बाद में दिल्ली, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश ने इस पर आपत्ति जताई. 1993 में दिल्ली और हरियाणा के बीच समझौता हुआ. इसमें मुनक नगर के जरिए दिल्ली को पानी देने की बात हुई. इसके बाद 1994 में एक और समझौता हुए इसमें सभी राज्यों को उनके हिस्से का पानी दिया जाता है. दिल्ली के पास पानी हरियाणा से आता है. इसी बात को लेकर हमेशा विवाद होता रहता है.