share--v1

Bihar Floor Test: तेजस्वी के आवास पर तैनात पुलिस बल को राजद ने बताया नीतीश कुमार का 'डर'

Bihar Floor Test: बिहार में नई सरकार के फ्लोर टेस्ट के चलते एक तरफ जहां जदयू के विधायकों को पटना के होटल में शिप्ट कर दिया गया है तो वहीं आरजेडी के तेजस्वी यादव के घर पर मौजूद विधायकों के निकट भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है.

auth-image
Antriksh Singh
फॉलो करें:

Tejashwi Yadav and Nitish Kumar: बिहार में सरकार बदलने के बाद, नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के विधायकों को सोमवार को होने वाले विश्वास मत से पहले एक होटल में शिफ्ट कर दिया गया है. यह जदयू की बड़ी परीक्षा है क्योंकि वह भाजपा के राजग में वापस आ गई है.

पटना के होटल में जदयू  के विधायक

एक वीडियो में, जदयू विधायकों को पटना के चाणक्य होटल में जाते देखा गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उम्मीद है कि सोमवार को होने वाले विश्वास मत में उन्हें जीत मिलेगी. उनकी पार्टी के सहयोगियों का भी उन्हें समर्थन है.

इससे पहले इस महीने, नीतीश कुमार ने विपक्षी दलों के साथ मिलकर बनाए गए महागठबंधन को छोड़ दिया था. वह उस गठबंधन के प्रमुख थे, लेकिन उन्हें उसका संयोजक नहीं बनाया गया था. इसलिए उन्होंने भाजपा के साथ मिलकर नई सरकार बना ली.

विधायकों पर अपडेट

नीतीश कुमार ने महागठबंधन छोड़ने का कारण बताया कि वहां सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था. उन्होंने कहा कि उन्हें अपने समर्थकों और पार्टी कार्यकर्ताओं से सलाह मिली थी, जिसके बाद उन्होंने यह फैसला लिया.

सोमवार को होने वाले विश्वास मत से पहले, जदयू के तीन विधायक रविवार शाम को हुई विधायकों की बैठक में नहीं आए.

टेस्ट पास करने के समीकरण

जदयू के पास 243 सदस्यों वाली विधानसभा में 45 विधायक हैं, जबकि उसके सहयोगियों भाजपा और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्युलर) के पास क्रमशः 79 और 4 विधायक हैं. एक अन्य निर्दलीय विधायक के समर्थन से राजग के पास 128 विधायक हैं, जबकि महागठबंधन के पास 115 विधायक हैं. सरकार को बहुमत साबित करने के लिए 122 वोटों की जरूरत है.

तेजस्वी के आवास पर भारी पुलिस बल मौजूद

इसी बीच राष्ट्रीय जनता दल ने तेजस्वी यादव के आवास पर मौजूद पुलिस बल के पीछे नीतीश कुमार का सरकार जाने का डर बताया है. तेजस्वी के आवास पर आरजेडी के तमाम विधायक मौजूद हैं. बताया जा रहा है कि कुछ को उनकी मर्जी के बगैर हाउस अरेस्ट किया गया है. इसके चलते आवास पर पुलिस-प्रशासन मौजूद है. 

इस विरोध ने राष्ट्रीय लोकदल ने एक्स पर लिखते हुए कहा है-

'नीतीश कुमार ने सरकार जाने के डर से हजारों की संख्या में पुलिस भेज तेजस्वी जी के आवास को चारों तरफ़ से घेर लिया है। ये किसी भी तरह से किसी भी बहाने आवास के अंदर घुस कर विधायकों के साथ अप्रिय घटना करना चाहते है। बिहार की जनता नीतीश कुमार और पुलिस के कुकर्म देख रही है।

याद रहे हम डरने और झुकने वालों में से नहीं है। ये वैचारिकी का संघर्ष है और हम इसे लड़ेंगे और जीतेंगे क्योंकि बिहार की न्यायप्रिय जनता इस पुलिसिया दमन का प्रतिकार करेगी। जय बिहार! जय हिन्द.'

Also Read

First Published : 12 February 2024, 02:14 AM IST