menu-icon
India Daily
share--v1

अनगिनत सीढ़ियां, दर्जनों पहाड़, और निशाचरी माया की छाप, कहां और किस हाल में है रावण की लंका?

Ravana Place: इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि रावण के पास पहुंचना बिल्कुल भी आसान नहीं था. इसके अलावा यह भी बताया गया है पहले के समय में कैसी दिखती थी रावण की लंका.

auth-image
India Daily Live
Ravan Mahal In Sri Lanka:
Courtesy: Social Media

Ravan Mahal In Sri Lanka: रावण की बुराइयां, अहंकार और उसके ज्ञान के बारे में हर कोई सुनता है और बात करता है. लेकिन क्या आपको पता है कि अब रावण का महल कहां और किस हाल में हैं. इस महल को देखने के लिए कई लोग आते हैं. आप भी जब इस महल को देखेंगे तो सोच में पड़ जाएंगे की क्या सच में यह पहले सोने से बनी लंका थी. चलिए जानते हैं कि अब रावण की लंका कैसी दिखती है.

सोशल मीडिया पर एक व्लॉग काफी तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दिखाया गया है कि आज के समय में रावण की लंका की कैसी दिखती है. इसमें यह भी दिखाया गया है कि रावण की लंका में पहुंचना बिल्कुल भी आसान नहीं था. ऐसा कहा जाता है कि आज भी रावण का शव यहां दफन है.


कहां हैं रावण की लंका?

कहते हैं आज श्रीलंका में जो सिगिरिया नाम की जगह है, वहां कभी रावण का महल हुआ करता था. वीडियो में देख सकते हैं रावण का महल जिस चट्टान पर हुआ करता था, वह कितना अनोखा और विशाल है.  बताया जाता है कि रावण का साम्राज्य मध्य श्रीलंका में बदुल्ला से लेकर अनुराधापुरा, केंडी, पोलोन्नुरुवा और नुवारा एलिया तक फैला हुआ था. ऐसा कहा जाता है कि इस महल का निर्माण कुबेर ने किया था.

सुरक्षा का रखा था खास ध्यान

वीडियो में दिखाया गया है कि रावण का महल जिस चट्टान पर था, वो कितना दुर्गम स्थल है. ऐसा कहा जाता है कि लंका में जो सिगिरिया नाम की जगह है, वहां ही रावण का महल हुआ करता था. वीडियो में बताया गया है कि रावण की लंका में पैदल पहुंचने के लिए लगभग डेढ़ घंटा लगता है. रावण की सुरक्षा के लिए काफी अच्छे से ध्यान रखा गया था. नीचे से लेकर ऊपर तक सैनिक खड़े हुआ करते थे.

लिफ्ट का करते थे इस्तेमाल

करीब 1,000 सीढ़ियां रावण के इस महल में हुआ करती थी. उस समय में टॉप पर जाने के लिए लिफ्ट का इस्तेमाल किया जाता था. महल इतनी ऊंचाई पर होने के बाद भी पानी का सिस्टम काफी खास तरह से तैयार किया गया था. 

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल, इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारियों के हिसाब से लिखा गया है. इंडिया डेली लाइव इसकी पुष्टि नहीं करता है