menu-icon
India Daily
share--v1

कमाल की इंजीनियरिंग: नहीं थे ट्रैक्टर खरीदने के पैसे तो खुद बना लिया देसी ट्रैक्टर, खबर पढ़कर आप कहेंगे क्या जुगाड़ है

Bihar Viral News: किसान द्वारा कबाड़ की मदद से बनाए गए ट्रैक्टर की चर्चा आस पास के क्षेत्रों में हो रही है. लोग उन्हें ट्रैक्टर बनाने का ऑर्डर तक दे रहे हैं.

auth-image
Gyanendra Tiwari
कमाल की इंजीनियरिंग: नहीं थे ट्रैक्टर खरीदने के पैसे तो खुद बना लिया देसी ट्रैक्टर, खबर पढ़कर आप कहेंगे क्या जुगाड़ है

Viral News: कहते हैं कि आवश्यकता ही आविष्कार की जननी होती है. इंसान को जब किसी चीज की आवश्यकता होती है तो उसका जुगाड़ कर ही लेता है. अपनी मेहनत, बुद्ध और अथक परिश्रम के दम पर कोई भी लक्ष्य या चीज हासिल की जा सकती है. अगर उसे नेक इरादे से की जा रही है. संसद के अभाव में भी लोगों ने इतिहास रचा है. कुछ ऐसा ही इतिहास बिहार के एक किसान ने रच दिया है. ट्रैक्टर खरीदना था. पैसे नहीं थे लेकिन ट्रैक्टर जरूरी था. कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करें तो खुद ही ट्रैक्टर बना डाला. वो भी देसी जुगाड़ लगाकर.

किसान द्वारा कबाड़ की मदद से बनाए गए ट्रैक्टर की चर्चा आस पास के क्षेत्रों में हो रही है. लोग उन्हें ट्रैक्टर बनाने का ऑर्डर तक दे रहे हैं. यह खबर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. इंजीनियर भी किसान के जुगाड़ के आगे घुटने टेक दें.

नवभारत टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार बिहार के सिवान जिला के फुलवरिया गांव के रहने वाले विनोद के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो अपने लिए एक नया ट्रैक्टर ले सकें. उन्होंने सोच रखा था कि चाहे जो भी वो जाए उन्हें ट्रैक्टर का जुगाड़ करना है. उन्होंने अपने से ट्रैक्टर बनाने के लिए कबाड़ एकत्रित किया. उनके घर में एक पुराने ट्यूब बेल का मोटर रखा हुआ था. उसी मोटर को उन्होंने इंजन में तब्दील करके  '350 एचपी' का ट्रैक्टर बनाकर अपने सपने को सच साबित कर दिया.

ये रहा वीडियो

विनोद ने ट्रैक्टर के पुर्जों को बनाने के लिए लोहे की मदद ली. टायर से लेकर अन्य जरूरी उपकरण को लोहे से बनाया. इसके खर्च के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि इसमें लगभग 2 लाख रुपए और 1 साल की कड़ी मेहतन लगी है. उनका दावा है कि एक लीटर तेल में यह 10 कट्ठा खेत की जुताई कर सकता है.

यह भी पढ़ें-  सुहागरात के दिन मौलवी साहब को बीवी ने नहीं उतारने दिए कपड़े...पुलिस आई तो हुआ ये बड़ा खुलासा