share--v1

RBI On Paytm: आरबीआई के इस ऐलान से पेटीएम को होगा फायदा! इस लिए लिया गया फैसला

RBI On Paytm: भारतीय रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ग्राहकों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक अहम फैसला लिया है. अगर NPCI राजी हो जाता है तो इससे पेटीएम और पेटीएम पेमेंट्स बैंक के यूपीआई यूजर्स को फायदा होता है.

auth-image
India Daily Live

RBI On Paytm: पेटीएम को लेकर आरबीआई ने एक और फैसला लिया है. इस फैसले से ग्राहक और कंपनी दोनों को फायदा होगा. दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक ने NPCI ( National Payments Corporation of India) को पेटीएम के यूपीआई के लिए थर्ड पार्टी एप्लीकेशन प्रोवाइडर बनने को कहा है.

बीते 31 जनवरी को भारतीय रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर प्रतिबंध लगा दिया था. क्योंकि आरबीआई को कई गड़बड़ियां मिली थी. वो यूपीआई यूजर्स जिनका बैंक अकाउंट पेटीएम पेमेंट्स बैंक में हैं वो 15 मार्च के बाद यूपीआई ट्रांजैंक्शन नहीं कर पाएंगे. क्योंकि 15 मार्च के बाद से क्रेडिट और डेबिट नहीं कर पाएंगे. इसके लिए RBI ने ग्राहकों से अपील की है कि वो अपने यूपीआई आईडी में दूसरा अकाउंट लिंक कर लें.

अगर आपके यूपीआई से पेटीएम पेमेंट बैंक के अलावा कोई दूसरा बैंक अकाउंट लिंक है तो आपकी यूपीआई सर्विस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

भारतीय रिजर्व बैंक ने One97 Communication Ltd (OCL) के रिक्वेस्ट पर NPCI को TPAP बनने को कहा है ताकि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के यूजर्स का यूपीआई चलता रहे.

आरबीआई ने सलाह दी है कि यदि एनपीसीआई OCL की TPAP (Third Party Application Provider) वाली रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लेता है तो किसी भी गड़बड़ी से बचने के लिए @paytm हैंडल को पेटीएम पेमेंट्स बैंक से नए बैंकों के एक समूह में सहज तरीके से ट्रांसफर करना होगा.

भारतीय रिजर्व बैंक ने NPCI को उन 4 से 5 बैंकों की पहचान करने को कहा जो पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर के रूप में भारी संख्या में यूपीआई ट्रांजैक्शन कराने की क्षमता रखते हैं.  

आज पेटीएम पेमेंट बैंक के शेयर 5 फीसदी बढ़कर अपर सर्किट पर रहे. इस हफ्ते पेटीएम के शेयर  लगातार अपर सर्किट पर रहे. आज पेटीएम के शेयर 407.75 के  स्तर पर बंद हुए.   

Also Read