share--v1

नारायण मूर्ति बोले- 'तीन शिफ्ट में काम करें भारतीय तभी होगा देश का विकास, लोगों को कुछ भी फ्री न दिया जाए'

नारायण मूर्ति ने कहा कि हम भी चीन की बराबरी कर सकते हैं और उससे आगे जा सकते हैं लेकिन उसके लिए हमें त्वरित फैसले लेने होंगे.

auth-image
Sagar Bhardwaj
फॉलो करें:

Narayan Murthy: भारतीय युवाओं को हफ्ते में 70 घंटे काम की सलाह देने वाले इंफोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति एक बार फिर से चर्चा में हैं. नारायण मूर्ति ने कहा कि सरकार को प्राथमिकता के साथ इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स को निपटाना चाहिए और इसके लिए इंडस्ट्री में लोगों को 3 शिफ्ट में काम करने की जरूरत है.

चीन से आगे जाने के लिए हमें त्वरित फैसले लेने होंगे

मूर्ति ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था 3.5 ट्रिलियन डॉलर की है जबकि चीन 19 ट्रिलियन डॉलर पर पहुंच चुका है. उन्होंने कहा कि कभी चीन के सामने भी हमारी जैसी समस्याएं थीं लेकिन चीन ने उनका समाधान निकाला और हमसे आगे निकल गया. हम भी चीन की बराबरी कर सकते हैं और उससे आगे जा सकते हैं लेकिन उसके लिए हमें त्वरित फैसले लेने होंगे.

बेंगलुरु में टेक समिट 2023 के 26वें संस्करण में जीरोधा कंपनी के को-फाउंडर निखिल कामत के एक सवाल पर नारायणमूर्ति ने ये बात कही. मूर्ति ने आगे कहा कि विदेशों में लोग दो शिफ्ट में काम करते हैं इसलिए वो हमसे आगे हैं.

लोगों को कुछ भी फ्री नहीं दिया जाना चाहिए

समिट में नारायण मूर्ति ने कहा कि सरकार की तरफ से लोगों को कुछ भी फ्री में नहीं दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं फ्री सेवाएं और सब्सिडी के खिलाफ नहीं हूं लेकिन ऐसे सभी लोगों को बदले में समाज की भलाई के लिए काम करना चाहिए. उन्होंने कहा कि फ्री योजनाएं कंडीशनल होनी चाहिए.

बच्चों को इंग्लिश मीडियम स्कूल में पढ़ाएं

इंफोसिस के फाउंडर ने कहा कि बड़े लोग कभी भी अपने बच्चों को कन्नड़ मीडियम स्कूल में नहीं भेजते. उनके बच्चे हमेशा इंग्लिश मीडियम में पढ़ते हैं. इसलिए हमें इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने और चलाने के लिए ईकोसिस्टम को ज्यादा आसान और फ्री बनाने की जरूरत है.

Also Read

First Published : 30 November 2023, 10:21 PM IST