menu-icon
India Daily
share--v1

Elon Musk: एलन मस्क के X पर गंभीर आरोप, प्लेटफॉर्म पर आतंकी संगठन ले रहे ये खास सर्विस

Elon Musk: एलन मस्क के X प्लेटफॉर्म पर ऐसे आतंकी समूहों के लिए भी ब्लू मार्क देने का आरोप लगा है जो खुद अमेरिका में आतंकी घोषित हो चुके हैं.

auth-image
India Daily Live
elon musk

Elon Musk: एलन मस्क के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. आरोप है कि 'एक्स' आतंकी संगठनों का अकाउंट बैन करने के बजाए उनको खास सुविधाएं दे रहा है. इन सुविधाओं में सब्सक्रिप्शन और वेरिफिकेशन शामिल हैं. सबसे खास बात ये है कि अकाउंट जिनके हैं उनको अमेरिका ने खुद आतंकी घोषित किया हुआ है. 

कैसे हुआ खुलासा? 

एक गैर-सरकारी संस्था Tech Transparency Project (TTP) ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि X ने अमेरिका सरकार द्वारा आतंकी घोषित दो संगठनों के नेताओं और कई अन्य बैन संस्थाओं को "ब्लू चेकमार्क" दिया है. यह ब्लू चेकमार्क पेड सब्सक्रिप्शन के साथ मिलता है. रिपोर्ट में बताया गया है कि लगभग एक दर्जन से ज्यादा प्रतिबंधित संस्थाओं के X अकाउंट पर ब्लू चेकमार्क है.

चिंता की वजह: 

TTP का कहना है कि चूंकि X ब्लू चेकमार्क और अन्य सुविधाओं के लिए पैसे लेता है, इसलिए वो इन आतंकी संगठनों के साथ आर्थिक लेन-देन कर रहा है. रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि हिज्बुल्लाह के नेता हसन नसरल्लाह के अकाउंट पर ब्लू चेकमार्क के साथ "ID वेरिफाइड" का टैग भी लगा है, जो कि प्रीमियम सब्सक्रिप्शन लेने वालों को मिलता है.

X का जवाब: 

X की सुरक्षा टीम ने इन आरोपों को खारिज किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि "TTP की रिपोर्ट में बताए गए कई अकाउंट सीधे प्रतिबंध सूची में नहीं हैं. कुछ अकाउंट पर भले ही चेकमार्क दिख रहा है, लेकिन हो सकता है उन्हें वो सर्विस न दी जा रही हों. हमने रिपोर्ट को रिव्यू किया है है और जरूरी कार्रवाई करेंगे."

बाद में क्या हुआ? 

X ने रिपोर्ट में बताए गए संगठनों के अकाउंट से ब्लू चेकमार्क हटा दिए हैं, जिनमें हिज्बुल्लाह के नेता हसन नसरल्लाह और यमन के हूती विद्रोही शामिल हैं.