menu-icon
India Daily
share--v1

Spam Calls से छुटकारा पाने का 10 डिजिट सॉल्यूशन, अब स्कैमर्स नहीं कर पाएंगे चोरी

Fraud Calls: स्पैम कॉल्स से अगर आप परेशान हो चुके हैं तो सरकार ने एक 10 डिजिट सॉल्यूशन पेश किया है जिसके बाद स्कैमर्स लोगों को खुद को अधिकारिक बताकर परेशान नहीं कर पाएंगे. 

auth-image
India Daily Live
Fraud Calls
Courtesy: Canva

Fraud Calls: आजकल फोन कॉल स्कैम्स काफी ज्यादा बढ़ते जा रहे हैं. इससे बचने के लिए टेलिकॉम डिपार्टमेंट ने 10 डिजिट सॉल्यूशन पेश कर दिया है. स्कैमर्स की कॉल को पहचानने का एक तरीका उपलब्ध कराया गया है जिसमें सरकार, रेगुलेटर्स और फाइनेंशियल संस्थाओं द्वारा सभी सर्विस और लेन-देन संबंधी कॉल के लिए जो 10 डिजिट का नंबर एलॉट किया गया है वो 160 से शुरू होता है. 

बैंक, सरकारी विभागों से आने वाले कॉल्स में होगा 160: अगर कोई कॉल सरकार, रेगुलेटर, फाइनेंशियल संस्था से आता है तो उसकी पहचान नंबर से होगी. वह 10 अंकों का होगा और उसकी शुरुआत में 160 लगा होगा  उदाहरण के लिए- 1600ABCXXX. अब इसमें जहां AB लगा हो वो टेलिकॉम सर्कल का कोड होगा जैसे दिल्ली के लिए 11, मुंबई के लिए 22 आदि. वहीं,जहां C लिखा है वो टेलिकॉम ऑपरेटर का कोड होगा. XXX में 000-999 के बीच की कोई भी डिजिट हो सकती है. 

रिपोर्ट के अनुसार, इस 10 डिजिट सीरीज को DoT ने डिजाइन किया है जिससे आपको यह पता चल पाए कि आपके पास जो कॉल आ रहा है वो कहां से और किस ऑपरेटर से आ रहा है. आधिकारिक नोट में कहा गया है, "टेलिकॉम कमर्शियल कम्यूनिकेशन कस्टमर प्रीफ्रेंस रेग्यूलेशन (TCCCPR) सर्विस और ट्रांजेक्शन वॉयस कॉल्स के लिए एक्सक्लूसिवली 10 डिजिट का नंबर पेश किया गया है. टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर यह सुनिश्चित करना चाहता है यूजर्स यह पता रहे कि उनके पास जो कॉल आ रही है वो कहां से आ रही है.”

क्या होगा फायदा: इस सॉल्यूशन के बाद अब स्कैमर लोगों को धोखा देकर उनकी जानकारी या पैसा नहीं लूट पाएंगे. अगर आपके पास कोई कॉल आता है जिसमें 160 शुरुआत में प्रीफिक्स नहीं है और वो खुद को बैंक या कोई और अधिकारी बताता है तो समझ जाइए कि वो फ्रॉड कॉल है और इस तरह की कॉल्स को सिरे से इग्नोर करें.