share--v1

'धोखे से मारा शेर को..', मुख्तार अंसारी की मौत पर कांस्टेबल का WhatsApp स्टेटस; मचा बवाल

UP Police: गैंगस्टर से राजनेता बने मुख्तार अंसारी की मौत पर यूपी पुलिस के एक कांस्टेबल ने वॉट्सऐप स्टेटस पर बवाल मच गया है. कांस्टेबल ने अपने वॉट्सऐप स्टेटस में मुख्तार अंसारी के न सिर्फ शेर-ए-पूर्वांचल बताया, बल्कि एक स्टेटस में उसने शायराना अंदाज में लिखा- धोखे से मारा शेर को पिंजरे में डालकर.

auth-image
India Daily Live

UP Police: बांदा जिला जेल में हार्ट अटैक से मुख्तार अंसारी की मौत के बाद यूपी पुलिस के एक कांस्टेबल के वॉट्सऐप स्टेटस पर बवाल मच गया है. जिस कांंस्टेबल ने अपने मोबाइल में वॉट्सऐप स्टेटस लगाया, उसकी पहचान फयाज खान के रूप में हुई है, जो लखनऊ के बीकेटी थाने में तैनात है. 

आरोपों के मुताबिक, कांस्टेबल ने अपने मोबाइल में मुख्तार अंसारी की मौत के बाद दो स्टेटस लगाए. एक में उसने शायराना अंदाज में लिखा- जिंदा रहेगा, वो तो दिलों में आवाम के, ऐ दिल न उसकी मौत पे रंजो मलाल कर. हिम्मत नहीं थी, सामने आकर लड़े कोई, धोखे से मारा शेर को पिंजरे में डालकर. अलविदा शेर-ए-पंजाब.

एक अन्य स्टेटस में लिखा- बाबा की माया के नारे लगा रहे हैं

एक अन्य वॉट्सऐप स्टेटस में आरोपी कांस्टेबल ने लिखा- शेर की गुर्राहट से जिनके आका, बाप, दादा की पैंट गीली हो जाती थी, वो आज बाबा की माया के नारे लगा रहे हैं. कांस्टेबल फयाज खान के वॉट्सऐप स्टेटस का स्क्रीनशॉट लेकर किसी ने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया, जो वायरल हो गया. मामले की जानकारी के बाद यूपी पुलिस के सीनियर अफसरों ने जांच पड़ताल की बात कही है. लखनऊ उत्तरी के DCP अभिजीत आर शंकर ने कहा कि कांस्टेबल की ओर से यूपी पुलिस सोशल मीडिया पॉलिसी और 1991 के नियमों का उल्लंघन किया है. कांस्टेबल को सस्पेंड करने के लिए चुनाव आयोग को इस संबंध में रिपोर्ट भेजी गई है. 

गैंगस्टर से राजनेता बने मुख्तार अंसारी की गुरुवार यानी 28 मार्च को हार्ट अटैक से मौत हो गई थी. तबीयत बिगड़ने के बाद मुख्तार अंसारी को अस्पताल में एडमिट कराया गया था, जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था. मुख्तार के खिलाफ 60 से ज्यादा केस दर्ज थे, जिनमें हत्या, अपहरण, गुंडा एक्ट, आर्म्स एक्ट, गैंगस्टर एक्ट तक शामिल थे. दो मामलों में उसे उम्रकैद की सजा मिल चुकी थी.

Also Read