share--v1

लोकसभा चुनाव से पहले चिराग पासवान को तगड़ा झटका, एक साथ 22 नेताओं ने LJPR से दिया इस्तीफा

चिराग पासवान की पार्टी बिहार में इस बार 5 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है. प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार से बिहार में अपने चुनावी अभियान की शुरुआत करेंगे.

auth-image
India Daily Live

Bihar News: लोकसभा चुनाव से पहले चिराग पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी को तगड़ा झटका लगा है. चिराग पासवान ने नाराज चल रहे पार्टी के लगभग 2 दर्जन कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफा देने वालों में राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर के पदाधिकारी भी शामिल हैं.  बता दें कि बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं और चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी बीजेपी के साथ गठबंधन में 5 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

इतनी बड़ी संख्या में इस्तीफा क्यों
बताया जा रहा कि इस्तीफा देने वाले कार्यकर्ता व पदाधिकारी पार्टी के लिए समर्पित नेता व कार्यकर्ताओं की जगह बाहरी लोगों को उम्मीदवार बनाए जाने से नाराज चल रहे थे. कहा जा रहा है कि बागी सांसद वीना देवी को वैशाली से फिर से उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर पार्टी में नाराजगी थी.

पार्टी छोड़ने वाले नेताओं में कौन-कौन
पार्टी छोड़ने वाले नेताओं में LJPR की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेणु कुशवाहा, राष्ट्रीय महासटचिव सतीश कुमार, प्रदेश संगठन सचिव ई रविंद्र सिंह, मुख्य संगठन विस्तारक अजय कुशवाहा, प्रदेश उपाध्यक्ष संजय सिंह, प्रदेश महासचिव राजेश दांगी और अन्य नेता शामिल हैं. इन सभी लोगों ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.

चिराग पर लगाया टिकट बेचने का आरोप
यही नहीं पार्टी छोड़ने वाले कुछ नेताओं ने चिराग पासवान पर टिकट बेचने का भी आरोप लगाया है.
बीजेपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही LJPR  ने हाजीपुर (चिराग पासवान), वैशाली (वीणा सिंह), जमुई (अरुण भारती), समस्तीपुर (शांभवी चौधरी), खड़गिया  (राजेश वर्मा) को मैदान में उतारा है. लोकसभा चुनावों से ठीक पहले नेताओं के इतनी बड़ी संख्या में पार्टी से इस्तीफा देने से बिहार में एनडीए और एलजेपीआर की जीत पर क्या असर पड़ेगा यह तो चुनाव के बाद ही पता चलेगा.

Also Read