menu-icon
India Daily
share--v1

इस ऑलराउंडर की जगह है टी20 वर्ल्ड कप में पक्की, जानिए सुरेश रैना ने किस खिलाड़ी पर लगाया दांव

T20 World Cup 2024: सुरेश रैना का मानना है कि इस खिलाड़ी का टी20 वर्ल्ड कप में खेलना तय है, क्योंकि हाल ही में बल्ले और गेंद दोनों से उनका प्रदर्शन शानदार रहा है. ये ऑलराउंडर पिछले कुछ सालों में भारतीय टीम के मुख्य खिलाड़ी बन गए हैं और लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

auth-image
Antriksh Singh
Suresh Raina

T20 World Cup 2024: सुरेश रैना का मानना है कि अक्षर पटेल का टी20 वर्ल्ड कप में खेलना तय है, क्योंकि हाल ही में बल्ले और गेंद दोनों से उनका प्रदर्शन शानदार रहा है. अक्षर पिछले कुछ सालों में भारतीय टीम के मुख्य खिलाड़ी बन गए हैं और लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

अक्षर पटेल का चयन पक्का!

पहले टी20 मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ अक्षर ने 4 ओवर में सिर्फ 21 रन देकर 2 विकेट लिए थे.

भारत के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना का मानना है कि जून में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए अक्षर पटेल का चयन पक्का है, हालांकि पिछले साल वनडे वर्ल्ड कप में आखिरी समय में लगी चोट के कारण वह नहीं खेल पाए थे.

रैना ने कहा कि अक्षर पावरप्ले में गेंदबाजी करते हैं और बल्लेबाजी के दौरान भी उनका प्रदर्शन अच्छा रहा है. उनके गेंदबाजी के तरीके पर प्रज्ञान ओझा बेहतर बयान दे सकते हैं क्योंकि वह खुद एक लेफ्ट आर्म स्पिनर हैं. अक्षर गेंद की गति बदलते हैं, जिस तरह से उन्होंने गुरबाज का विकेट लिया, यह उनकी खासियत है. मुझे लगता है कि उनका चयन निश्चित है.

किस खिलाड़ी से मिल सकती है कड़ी टक्कर

हालांकि, टी20 विश्व कप टीम में जगह बनाने के लिए अक्षर को रवींद्र जडेजा से कड़ी टक्कर मिल सकती है. रैना का सुझाव है कि आईपीएल 2024 में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए जडेजा का प्रदर्शन टीम चयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

रैना ने कहा कि यह देखना होगा कि जडेजा के बारे में चयनकर्ता क्या सोच रहे हैं. उन्हें निश्चित रूप से आराम दिया गया है क्योंकि इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैच हैं. जडेजा एक प्रभावशाली खिलाड़ी हैं. यह काफी हद तक आईपीएल के प्रदर्शन, आपकी लय और आपके आत्मविश्वास पर निर्भर करेगा.

प्रज्ञान ओझा ने भी अक्षर की तारीफ की

पूर्व भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने भी अक्षर की तारीफ की और कहा कि उनका खेल पढ़ने का सेंस उत्कृष्ट है.

ओझा ने कहा कि अक्षर को टीम में रखना चाहिए. जब कोई गेंदबाज या ऑलराउंडर टीम में अंदर-बाहर होता रहता है और जब भी मौका मिलता है अच्छा प्रदर्शन करता है, तो इसका मतलब है कि उसका खेल पढ़ने का सेंस बेहतरीन है, उसकी खेल जागरूकता हमेशा बनी रहती है.

ओझा ने यह भी कहा कि जडेजा के साये में रहने के बावजूद जब भी मौका मिलता है, अक्षर बल्ले और गेंद दोनों से लगातार प्रदर्शन करते हैं, और वह एक अच्छे फील्डर भी हैं. वह प्वाइंट पर फील्डिंग करते हैं, बिल्कुल रवींद्र जडेजा की तरह.