menu-icon
India Daily
share--v1

सोते समय चढ़ जाती है शरीर की नस तो करें ये काम, तुरंत मिलेगा आराम

Lifestyle Tips: अगर रात में सोते समय आपकी भी नस चढ़ जाती है और अगली सुबह दर्द बना रहता है तो इसका मतलब है कि आपके अंदर पोषक तत्वों की कमी है. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ आसान से उपायों को अपना सकते हैं. 

auth-image
Mohit Tiwari
girl
Courtesy: pexels

Lifestyle Tips: कई लोगों की रात में सोते समय नस चढ़ जाती है. यह समस्या कई लोगों को होती है. वहीं, गलत तरीके से उठने-बैठने और अगड़ाई लेने से शरीर की नस चढ़ जाती है. इससे आपको दर्द का सामना करना पड़ता है. अगर आपके साथ भी इस प्रकार की समस्याएं होती है तो इसका कारण पोषक तत्वों की कमी हो सकती है. 

एक्सपर्ट्स की मानें तो रात में सोते समय कंधे, गर्दन और हाथ-पैरों की अचानक से नस चढ़ने का कारण शरीर में न्यूट्रिशन्स की कमी होती है. इसके लिए आपके खानपान की खराब आदत, बिजी लाइफस्टाइल और स्ट्रेस भी जिम्मेदार होता है. नस चढ़ने के कारण आपको असहनीय दर्द का भी सामना करना पड़ सकता है. 

ये होते हैं कारण 

फिजियोथेरेपिस्ट्स का मानना है कि हीमोग्लोबिन की कमी के कारण भी सोते समय पैर और कंधे की नस चढ़ जाती है. बॉडी में हीमोग्लोबिन की वजह से ब्लड सर्कुलेशन अच्छी तरह से नहीं हो पाता है. इस कारण शरीर की नसें चढ़ जाती हैं. ब्लड सेल्स के माध्यम से ही हीमोग्लोबिन शरीर के अंगों में ऑक्सीजन पहुंचाता है. वहीं, आयरन की कमी से भी नसों के चढ़ने की समस्या हो जाती है. आयरन की कमी के चलते बॉडी के सेल्स को ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है. 

ये समस्याएं भी बनती हैं वजह

नस चढ़ने की वजह तनाव, कमजोरी, पानी की कमी, नसों में कमजोरी, पानी की कमी, अधिक शराब पीने,  गलत तरीके से बैठना, खून में सोडियम या पोटेशियम की कमी, मसल्स में ठीक तरह से खून का न पहुंच पाना आदि कई समस्याओं की वजह से भी नस चढ़ने की समस्या हो जाती है. 

नस चढ़ने पर करें ये उपाय 

  • अगर आपके बाएं पैर की नस चढ़ गई है तो आपको दाएं हाथ की अंगुली से कान के निचले जोड़ को दबाना चाहिए. अगर दाएं पैर की नस चढ़े तो बाएं हाथ की अंगुली से कान के पॉइंट को दबाएं. 
  • नस चढ़ने पर आप बर्फ से सिकाई कर सकते हैं. 
  • तेल को गुनगुना करके हल्के हाथों से मालिश करने से भी समस्या का समाधान हो जाता है. 
  • सोडियम की कमी से नस चढ़े तो हथेली पर नमक रखकर चाट लें. 

इस प्रकार कर सकते हैं बचाव 

  • मसल्स की मालिश करें. 
  • सोते समय पैरों के नीचे तकिया रखकर सोएं. 
  • दिन में कम से कम 15 मिनट तक बर्फ की सिकाई करें. 
  • मुंह में नमक रखकर नस चढ़ने वाली जगह को स्ट्रेच करें. 
  • शरीर में पोटेशियम की कमी न होने दें. 
  • आपको हेल्दी डाइट लेनी चाहिए. इसके साथ ही आयरन से भरपूर चीजों को डाइट में एड करना चाहिए. 

Disclaimer : यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है.  theindiadaily.com  इन मान्यताओं और जानकारियों की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह ले लें.