menu-icon
India Daily
share--v1

अगले 5 दिन आग उगलेगा आसमान, हीटवेव का अलर्ट, किन लोगों के जानलेवा हो सकती है धूप?

Heat Wave Tips: भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि 18 मई से अगले पांच दिनों तक उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में भीषण लू का आगमन होगा. ऐसे में इन लोगों कोे हो सकता है जान का खतरा.

auth-image
India Daily Live
Heat Wave Tips
Courtesy: Pinterest

Heat Wave: देश में भीषण गर्मी के कारण सभी का हाल बुरा हो रहा है. देश के कई राज्यों में हीटवेव का अलर्ट जारी कर दिया है. शुक्रवार को दिल्ली के नजफगढ़ में 47.4 डिग्री सेल्सियस टेंपरेचर पार हो गया है. भारत के कई ऐसे राज्य हैं जहां पारा 45 डिग्री सेल्सियस के ऊपर पहुंच चुका है. इसमें राजस्थान के 19, हरियाणा के 18, दिल्ली के आठ और पंजाब के दो स्थान मौजूद हैं. 
भारत मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि 18 मई से अगले पांच दिनों तक उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में भीषण लू का आगमन होगा. इसके साथ उन्होंने बताया कि शनिवार पूर्वी और मध्य भारत में फिर से लू चलने की संभावना है. 

सेहत पर पड़ता है असर

भीषण हीटवेव के कारण कई लोगों के सेहत पर बुरा असर पड़ रहा. ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की बेहद जरूरत है. क्योंकि हीटवेव की वजह से हर साल लोगों की मौत होती है. बता दें, कुछ लोगों के लिए हीटवेव जानलेवा हो सकता है.आइए जानते हैं इन लोगों को किस तरह से बचाव करना चाहिए. 

बुजुर्ग और बच्चों को है खतरा

आयशा हॉस्पिटल के ICU चीफ डॉक्टर शाहिद अख्तर बताते हैं कि गर्मी में जरा सी लापरवाही जानलेवा साबित हो सकती है. ऐसे में अगर आपको तबीयत खराब लगे तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें. बुजुर्ग और बच्चों को हीट स्ट्रोक का सबसे ज्यादा खतरा होता है. बुजुर्गों को हीट स्ट्रोक की वजह से ब्रेन स्ट्रोक तक आ सकता है. ऐसे में उन्हें दोपहर में बाहर जाने से बचना चाहिए और खूब पानी पिएं. 

गर्भवती महिलाएं रखें अपना ख्याल

डॉक्टर शाहिद अख्तर आगे कहते हैं कि गर्भवती महिलाओं के लिए भी हीटवेव खतरनाक हो सकता है. इस वजह से वह धूप में जाने से बचें. वह कहते हैं कि कई यह इतना खतरनाक हो जाता है कि इसकी वजह से मिसकैरेज भी हो जाता है. इसके अलावा अगर आपको बार बार-बार उल्टी या दस्त हो रहे हैं और बॉडी डिहाइड्रेट महसूस हो रही है तो ORS घोल का सेवन करें. लेकिन इसके साथ अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें. 

ऐसे करें बचाव

हीटवेव से बचने के लिए  पर्याप्त पानी पीते रहें. अगर आपको प्यास न लगी हो तब भी जितनी बार संभव हो पानी जरूर पिएं. दोपहर के समय बाहर निकलते समय  हल्के रंग के, ढीले और हवादार सूती कपड़े पहनें. साथ में चश्मे, छाता/टोपी, जूते या चप्पल का इस्तेमाल करें.

डिस्क्लेमर: यह खबर इंटरनेट पर उपलब्ध सामान्य जानकारियों पर आधारित है. विस्तृत जानकारी के लिए किसी विशेषज्ञ चिकित्सक की सलाह जरूर लें.