menu-icon
India Daily
share--v1

UNSC के सीज फायर प्रस्ताव से इजराइल रोक देगा गाजा में तबाही? समझिए नेतन्याहू का प्लान

इजरायल और हमास के बीच पिछले 8 महीने से जारी खूनी जंग के बीच UNSC ने तत्काल सीज फायर का प्रस्ताव दिया है. लेकिन सवाल ये है कि इसपर इजरायल और हमास राजी होंगे? दोनों के अपने-अपने शर्त हैं.

auth-image
India Daily Live
Israel war on Gaza
Courtesy: Social Media

इजरायल के हमलों से गाजा शहर पूरी तरह से तबाह हो चुका है. 8 महीनों से जारी जंग में हजारों लोगों की जान चली गई. जहां कभी इमारतें हुआ करती थी वहां अब खंडहर है. खाने-पीने के सामान खत्म हो गए हैं. राहत पहुंचाए जा रहे हैं, लेकिन वो प्रयाप्त नहीं हैं. इस तबाही के बीच राहत की खबर आई है. UNSC ने तत्काल सीज फायर का प्रस्ताव दिया है. 

आठ महीने पहले गाजा पर इजरायल के खूनी युद्ध की शुरुआत के बाद पहली बार, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अंततः तत्काल युद्ध विराम को मंजूरी दे दी, लेकिन इसके कार्यान्वयन पर कई सवाल बने हुए हैं. हमास का कहना है कि वह प्रस्ताव के सिद्धांतों को लागू करने के लिए अप्रत्यक्ष वार्ता में शामिल होने के लिए तैयार है. मतदान के बाद इजरायल के संयुक्त राष्ट्र प्रतिनिधि ने कहा कि उनका देश अर्थहीन और अंतहीन वार्ता में शामिल नहीं होगा, जिसका फायदा हमास उठा सकता है.  

मारे जा चुके हैं  37,124 लोग

वैश्विक चैरिटी मर्सी कॉर्प का कहना है कि युद्ध विराम प्रस्ताव को पूरी तरह से और तुरंत लागू किया जाना चाहिए और इसमें समय बर्बाद नहीं करना चाहिए क्योंकि गाजा की आधी आबादी भूख से मरने के कगार पर है. 7 अक्टूबर से गाजा पर इजरायल के युद्ध में कम से कम 37,124 लोग मारे गए हैं और 84,712 घायल हुए हैं. हमास के हमलों में इजरायल में मरने वालों की संख्या 1,139 है और दर्जनों लोग अभी भी गाजा में बंदी हैं.

बाइडेन ने हमास से युद्ध विराम के पर सहमति बनाने के लिए कहा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने हमास से अमेरिका समर्थित युद्ध विराम समझौते को स्वीकार करने को कहा है. यह कदम सोमवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के उस प्रस्ताव को अपनाने के बाद उठाया गया है जिसमें गाजा में लड़ाई को तत्काल रोकने का आह्वान किया गया है. उन्होंने एक्स पर लिखा, हमास का कहना है कि वह युद्ध विराम चाहता है. यह समझौता यह साबित करने का एक अवसर है कि वह ऐसा चाहता है.

हमास ने क्या दिया जवाब? 

हमास ने संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के पारित होने के तुरंत बाद उसका स्वागत करते हुए एक बयान जारी किया और कहा कि वह इसे लागू करने के लिए मध्यस्थों के साथ काम करने के लिए तैयार है. अमेरिका ने दावा किया है कि इजरायल की सरकार ने युद्ध विराम प्रस्ताव को प्रस्तावित किया है, लेकिन नेतन्याहू के गठबंधन के प्रमुख सदस्यों ने सार्वजनिक बयानों ने समझौते के प्रति उनकी प्रतिबद्धता पर सवाल उठाया है.

इजरायल की तफर से अभी भी लगातार हमले जारी हैं. गाजा के में मेडिकल फैसिलिटी खत्म हो चुके हैं. इलाज के लिए कोई अस्पताल नहीं बचा है. स्थानीय मीडिया के अनुसार, गाजा शहर में एक आवासीय अपार्टमेंट पर इजरायली हमले में कम से कम आठ लोग मारे गए हैं, जिनमें से अधिकांश बच्चे हैं और कई अन्य घायल हुए हैं.