menu-icon
India Daily
share--v1

अगर नहीं रहे रईसी तो कौन बनेगा ईरान का नया राष्ट्रपति, आखिर कब होगा अगला चुनाव?

Ebrahim Raisi News: ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया. घटना स्थल पर रेस्क्यू जारी है. इस बीच ईरान के अगले राष्ट्रपति और चुनाव को लेकर चर्चाएं होने लगी हैं.

auth-image
India Daily Live
President Of Iran If Ebrahim Raisi
Courtesy: President Of Iran If Ebrahim Raisi

Ebrahim Raisi News: ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया है. रविवार को हुए इस हादसे वाले हेलीकॉप्टर में रईसी के साथ देश के वित्त मंत्री भी मौजूद थे. बताया जा रहा है पूर्वी अजरबैजान क्षेत्र में हेलीकॉप्टर की हार्ड लैंडिंग हुई है. घटना स्थल पर रेस्क्यू जारी है. इस बीच बड़ी घटना के कारण अशुभ संकेतों पर भी चर्चा होने लगी है. आइये जानें अगर इस क्रैश में इब्राहिम रईसी अगर नहीं रहे तो देश का अगला राष्ट्रपति कौन होगा और चुनाव कब होंगे.

जानकारी के मुताबिक, रईसी अजरबैजान की यात्रा पर गए थे. तभी हादसा ईरान की राजधानी तेहरान से लगभग 600 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में बसे अजरबैजान की सीमा के आसपास हुआ है. काफिले में तीन हेलीकॉप्टर में से दो सुरक्षित वापस आ गए.

कौन होगा अगला राष्ट्रपति ?

अगर घटना में रईसी के मौत की पुष्टि होती है तो सबसे पहले वहां एक अस्थाई सरकार का गठन होगा. इसे देश के उप-राष्ट्रपति संभालेंगे. यानी उप-राष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर अगले प्रभारी राष्ट्रपति होंगे.

कब होंगे चुनाव ?

राष्ट्रपति की मृत्यु की स्थिति में ईरान में अस्थायी सरकार महज कुछ दिनों के लिए होगी. इसका संचालन उप-राष्ट्रपति मोहम्मद मोखबर करेंगे. उन्हें देश में 50 दिनों के भीतर चुनाव कराना होगा. इसके बाद ईरान को नया राष्ट्रपति मिल जाएगा.

हेलीकॉप्टर में दो और मंत्री

रिपोर्ट के मुताबिक, रईसी अजरबैजान में मंत्री इल्हाम अलीयेव के साथ बांध का उद्घाटन करने के लिए गए थे. उनके काफिले में कुल 3 हेलीकॉप्टर थे. उनके साथ विदेश मंत्री होसैन अमीर अब्दुल्लाहियन और  रईसी के प्रतिनिधि अयातुल्ला मोहम्मद अली आले-हाशेम थे. ऊर्जा मंत्री अली अकबर मेहरबियन और आवास एवं परिवहन मंत्री मेहरदाद बजरपाश दूसरे 2 हेलीकॉप्टरों में थे.

रेस्क्यू में हो रही परेशानी

ईरानी राष्ट्रपति के हेलिकॉप्टर जहां दुर्घटनाग्रस्त वाली जगह पर कोहरा है. इसकी वजह से रेस्क्यू टीम को परेशानी हो रही है. हादसा वाला इलाका जंगली है. मंत्री अहमद वाहिदी ने बताया कि खराब मौसम और कोहरे के कारण हेलिकॉप्टर तक पहुंचने में टाइम लग रहा है. उप-राष्ट्रपति घटनास्थल की तरफ रवाना हुए हैं. इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई है और मामले लगातार नजर बनी हुई है.