menu-icon
India Daily
share--v1

30 हजार फीट की ऊंचाई से अचानक 6 हजार फीट तक नीचे गिरा प्लेन, सकते में आ गई 211 लोगों की जान, 30 घायलों समेत एक की हुई मौत

टेकऑफ करने के डेढ़ घंटे बाद बीच आसमान में करीब 30  हजार फीट की ऊंचाई पर विमान जोर-जोर से हिलने लगा जिसके बाद विमान को बैंकॉक के लिए डायवर्ट किया गया जहां उसकी इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी.

auth-image
India Daily Live
turbulence in Singapore Airlines flight Boeing 777-300ER
Courtesy: social media

सिंगापुर एयरलाइंस की एक फ्लाइट में बीच आसमान में भारी झटके महसूस (एयर टर्बुलेंस) हुए, जिसकी वजह से विमान में बैठे एक यात्री की मौत हो गई जबकि 30 यात्री घायल हो गए. यह फ्लाइट लंदन से सिंगापुर जा रही थी. सिंगापुर एयरलाइंस की बोइंग 777-300ER ने लंदन से उड़ान भरी थी. टेकऑफ करने के डेढ़ घंटे बाद बीच आसमान में करीब 30  हजार फीट की ऊंचाई पर विमान जोर-जोर से हिलने लगा जिसके बाद विमान को बैंकॉक के लिए डायवर्ट किया गया जहां उसकी इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी.

5 मिनट में 31 हजार फीट पर आया विमान
तेज झटकों के बाद 5 मिनट के भीतर विमान 37 हजार फीट की ऊंचाई से 31 हजार फीट की ऊंचाई पर आ गया. झटके इतने तेज थे कि विमान के अंदर यात्रियों के लिए मौजूद सारा खाना बिखर गया. जोरदार झटकों के कारण यात्री अपनी सीट से ऊपर उछल गए और उनके सिर लगेज कंटेनर से टकराने लगे

विमान में सवार थे 211 यात्री

एयरलाइन ने एक बयान जारी कर कहा कि फ्लाइट SQ 321 में कुल 211 यात्री और 18 क्रू मेंबर सवार थे. विमानन कंपनी ने हादसे में मरने वाले यात्री के प्रति संवेदना भी व्यक्त की है. कंपनी ने आगे कहा कि वह इस हादसे में घायल हुए लोगों को मेडिकल सुविधा प्रदान करने के लिए थाई प्रशासन के साथ काम कर रही है और बैंकॉक के लिए एक टीम भेज रही है.

सुवर्णभूमि एयरपोर्ट पर एंबुलेंस और आपातकालीन टीम रवाना

वहीं थाई प्रशासन ने घायलों की मदद के लिए सुवर्णभूमि एयरपोर्ट के लिए एंबुलेंस और आपातकालीन टीम रवाना कर दी हैं. सिंगापुर के परिवहन मंत्री ची हौंग टैट ने इस हादसे को लेकर कहा कि सरकार यात्रियों और उनके परिवारों के लिए सहायता प्रदान करेगी.

फेसबुक पर एक बयान जारी कर परिवहन मंत्री टैट ने कहा, 'लंदन हीथ्रो से सिंगापुर जाने वाली सिंगापुर एयरलाइंस की उड़ान SQ321 में हुई घटना के बारे में जानकर मुझे गहरा दुख हुआ है.'

विमान नें क्यों लगे तेज झटके

फ्लाइट में इस तरह के झटके क्यों लगे, इसको लेकर अभी तक कोई वजह सामने नहीं आ सकी है. एक विमानन एक्सपर्ट जॉन स्ट्रिकलैड ने कहा कि झटके के दौरा चोट लगना बेहद ही असामान्य है, लेकिन कभी कभी तेज झटकों के कारण लोग गंभीर रूप से घायल हो सकते हैं और इंसान की मौत भी हो सकती है जैसा कि इस मामले में हुआ.