menu-icon
India Daily
share--v1

पाकिस्तान में मारा गया रियासी हमले का गुनहगार? Youtuber ने किया बड़ा दावा

दावा किया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के रियासी आतंकी हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तान में मारा गया. ये दावा पाकिस्तान के एक यूट्यूबर ने किया है. उसका कहना कि कुछ अज्ञात लोगों ने रियासी हमले के लिए जिम्मेदार आतंकी को मार गिराया है.

auth-image
India Daily Live
Reasi attack
Courtesy: Social Media

जम्मू-कश्मीर के रियासी में हमला कराने वाले आतंकी मारे गए हैं. ये दावा पाकिस्तान से किया जा रहा है. पाकिस्तानी मीडिया और यूट्यूबर्स द्वारा किए गए दावों के अनुसार, जम्मू-कश्मीर में रियासी आतंकी हमले के पीछे के मास्टरमाइंड को पाकिस्तान में अज्ञात लोगों द्वारा कथित रूप से मार गिराया गया. ऑनलाइन प्रसारित एक वीडियो में दो लोगों को इस रियासी हमले के लिए जिम्मेदार मास्टरमाइंड के खात्मे के बारे में  बयान देते हुए दिखाया गया है. 

16 सेकंड की क्लिप में एक सफेद शर्ट पहने हुए व्यक्ति को दिखाया गया है, जिसके हाथ में माइक्रोफोन है, वह अपने यूट्यूब चैनल के लिए वीडियो रिकॉर्ड कर रहा है. वह जम्मू-कश्मीर के रियासी में हुए हालिया आतंकी हमलों पर चर्चा करता है और उन रिपोर्टों का उल्लेख करता है कि मास्टरमाइंड को पाकिस्तान में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा बेअसर कर दिया गया है.

पाकिस्तान में हो रही टारगेट कीलिंग

हाल के दिनों में पाकिस्तान में टारगेट कीलिंग की संख्या बढ़ी है. कई आतंकियों को निशाना बनाया गया है.  भारतीय नागरिक सरबजीत सिंह के हत्यारे, पाकिस्तानी अंडरवर्ल्ड डॉन आमिर सरफराज उर्फ ​​तांबा की 14 अप्रैल को लाहौर में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. अज्ञात लोगों ने तांबा को निशाना बनाया, जिस पर पाकिस्तानी जेल के अंदर पॉलीथीन से गला घोंटकर सरबजीत सिंह की हत्या करने का आरोप था.

इससे पहले अंडरवर्ल्ड डॉन और पाकिस्तान में शरण लेने वाले आतंकवादियों की रहस्यमय तरीके से हत्या कर दी गई थी. पाकिस्तान ने इन मौतों के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया है, लेकिन भारत ने सारे आरोपों का नकार दिया. 

कांडा से 50 लोगों को हिरासत में लिया गया

इस बीच अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि जम्मू-कश्मीर के रियासी के कांडा इलाके में तीर्थयात्रियों की बस पर हाल ही में हुए आतंकवादी हमले के सिलसिले में करीब 50 लोगों को हिरासत में लिया गया है. 9 जून को हुए इस हमले में आतंकवादियों ने एक बस पर गोलीबारी की थी, जिससे बस खाई में गिर गई थी, जिससे नौ लोगों की मौत हो गई थी और 40 से ज़्यादा लोग घायल हो गए थे.

रियासी की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मोहिता शर्मा ने बताया कि कांडा क्षेत्र पुलिस स्टेशन के नेतृत्व में गहन जांच के बाद 50 लोगों को हिरासत में लिया गया है. उन्होंने कहा, महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं, जिससे हमले की साजिश रचने वालों की पहचान करने और उन्हें पकड़ने में मदद मिली है. अधिक सबूत जुटाने और छिपे हुए आतंकवादियों को पकड़ने के लिए अरनास और माहोर के दूरदराज के इलाकों में तलाशी अभियान को बढ़ा दिया गया है.