share--v1

कौन संभालेगा गाजा की सत्ता, USA के दबाव में फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री का इस्तीफा

Israel Hamas War: गाजा में युद्ध की समाप्ति के बाद नई सरकार के गठन और फिलिस्तीनी प्राधिकरण के राजनीतिक व्यवस्था पर आम सहमति बनाने के लिए प्रधानमंत्री मोहम्मद शतायेह ने राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा सौंप दिया.

auth-image
India Daily Live

Israel Hamas War: इजरायल और हमास के बीच जारी जंग के बीच सोमवार को फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री मोहम्मद शतायेह ने अपना इस्तीफा दे दिया. शतायेह ने गाजा युद्ध की समाप्ति के बाद फिलिस्तीनी लोगों के मध्य राजनीतिक व्यवस्था पर आम सहमति बनाने के लिए यह इस्तीफा सौंपा है. उन्होंने राष्ट्रपति महमूद अब्बास को इस्तीफा सौंपते हुए कहा कि गाजा में युद्ध के बाद बनने वाली नई सरकार का गठन पट्टी में शांति और स्थिरता सुनिश्चित करेगा. फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री का इस्तीफा अमेरिका द्वारा बनाए गए अंतरराष्ट्रीय दबाब के कारण आया है. 

फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री शतायेह ने कैबिनेट को सौंपे गए अपने इस्तीफे में कहा कि गाजा में अब युद्ध के दौरान पैदा हो रही व्यवस्थाओं को ध्यान में रखना होगा. उन्होंने कहा कि अगले चरण में नई सरकारी और राजनीतिक व्यवस्था की आवश्यकता होगी जो गाजा पट्टी में उभरती वास्तविकता, राष्ट्रीय एकता वार्ता और अंतर-फिलिस्तीनी सहमति की तत्काल आवश्यकता को ध्यान में रखे. उन्होंने इसके अलावा इस तथ्य पर भी जोर दिया कि फिलिस्तीनी प्राधिकरण के दायरे में भी विस्तार हो और वह पूरे फिलिस्तीन का नेतृत्व करे.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार,  शतायेह का इस्तीफा अमेरिका द्वारा फिलिस्तीनी प्राधिकरण में सुधार की मांग के बाद आया है. अमेरिका चाहता है कि गाजा युद्ध की समाप्ति के बाद फिलिस्तीन में ऐसी सरकार का गठन हो जिससे क्षेत्र में हमास जैसी शक्ति न पैदा हो और न ही उसके पारंपरिक साझेदार इजरायल को नुकसान पहुंचे. वॉशिंटन पहले ही हमास के खात्मे के बाद गाजा में किसी तरह का रोल निभाने से मना कर चुका है. 

मॉस्को में गाजा शासित हमास और फिलिस्तीनी प्राधिकरण के बीच मॉस्को में एकता सरकार के गठन पर बातचीत के लिए बुधवार को बैठक होनी है. इस बैठक से पहले हमास के एक नेता समू अबू जूहरी ने कहा कि प्रधानमंत्री शतायेह का इस्तीफा तभी समझ आता है जब वह पूरे फिलिस्तीनी प्रशासन को ध्यान में रखकर लिया गया हो. 

Also Read