menu-icon
India Daily
share--v1

मिथ या सच्चाई! दुनिया का वो शहर आज भी है लोगों के लिए राज, 4000 साल पहले ही था सबसे आधुनिक

Myth or Reality- Story of Atlantis city: समंदर की गहराई में कहीं छिपा अटलांटिस शहर इतिहास के पन्नों में दर्ज रहस्यों को सदियों से लोगों के बीच फैला है और हमेशा से ही दुनिया को अपनी ओर खींचता है. कथित तौर पर ये शानदार, टेक्निकली एडवांसड शहर एक विशाल द्वीप पर स्थित थी, जिसे किसी भयानक प्राकृतिक आपदा ने निगल लिया था.

auth-image
India Daily Live
Atlantis City
Courtesy: AI generated Image

Myth or Reality- Story of Atlantis city: समंदर की गहराई में कहीं, इतिहास के गर्भ में दफन, एक रहस्य का शहर सैकड़ों सालों से दुनिया को अपनी ओर खींच रहा है - अटलांटिस. ये शानदार, टेक्निकली एडवांसड शहर पुरानी कहानियों में जिंदा है, लेकिन क्या यह सचमुच अस्तित्व में था या ये महज एक मिथक है?

प्लेटो के लेख में था एटलांटिस का जिक्र

यूनानी दार्शनिक प्लेटो ने लगभग 2500 साल पहले अपने लेखों में सबसे पहले अटलांटिस का उल्लेख किया था. उनके अनुसार, ये एक विशाल द्वीप था, जिसकी सभ्यता एशिया और लीबिया से भी ज्यादा महान मानी जाती थी. सोने-चांदी से सजे महल, नहरों से जुड़े हुए विशाल परिसर, और अकल्पनीय वैज्ञानिक ज्ञान - ये सब अटलांटिस की समृद्धि और वैभव का बखान करते थे.

लेकिन कहानियों का एक और पहलू भी है. कहा जाता है कि अटलांटिस के वासी अपनी शक्ति और विलासिता में अहंकारी हो गए. उन्होंने देवताओं को भी चुनौती दी. इस घमंड को देखकर क्रोधित समुद्र देवता पोसेडॉन ने उन्हें श्राप दिया और एक भयंकर भूकंप के बाद पूरे शहर को समुद्र की गहराई में समाधि दे दी.

एटलांटिक से जुड़े कौन सी चीजें मिली

यही वो जगह है जहां इतिहास और मिथक की सीमाएं धुंधली हो जाती हैं. कई इतिहासकार और वैज्ञानिक अटलांटिस को सिर्फ एक कहानी मानते हैं. उनका कहना है कि ना तो ऐसे किसी शहर के अस्तित्व का कोई पुरातात्विक प्रमाण मिला है और ना ही किसी ऐसी प्राकृतिक आपदा का कोई दस्तावेजी सबूत है जो पूरे शहर को एक ही झटके में खत्म कर दे.

हालांकि, कुछ खोजकर्ताओं का दावा है कि उन्हें अटलांटिस के अवशेष समुद्र की तहों में मिल चुके हैं. उदाहरण के लिए, स्पेन के पास समुद्र में पाई गईं विचित्र संरचनाओं और भूमध्य सागर में खोजे गए रहस्यमयी प्लेटों को अटलांटिस से जोड़कर देखा जाता है. ये खोजें रोमांचक हैं, लेकिन अभी तक ठोस सबूत नहीं माने जा सकते.

सालों से चल रही है अटलांटिस की खोज

सदियों से वैज्ञानिक और इतिहासकार अटलांटिस की खोज में जुटे हुए हैं. कई समुद्री अभियान चलाए गए हैं, अत्याधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल किया गया है, लेकिन अभी तक कोई निर्णायक सबूत नहीं मिला है.

तो अटलांटिस - मिथक है या सच्चाई? ये सवाल आज भी दुनिया को मोहित किए हुए है. शायद कोई दिन आए, जब समुद्र अपने रहस्यों को उजागर करे और अटलांटिस की कहानी सच साबित हो जाए. तब इतिहास फिर से लिखा जाएगा और हमारी दुनिया के बारे में हमारी समझ बदल जाएगी. लेकिन तब तक, अटलांटिस एक रहस्य बना रहेगा, जो हमें सभ्यता के उत्थान और पतन, मानवीय महत्वाकांक्षाओं की विनाशकारी शक्ति, और खोई हुई दुनियाओं के रोमांच की याद दिलाता रहेगा.