menu-icon
India Daily
share--v1

Israel Hamas War: जंग के बीच रहम दिल हुआ मिस्र, फिलिस्तीनी और विदेशी नागरिकों को रफा क्रॉसिंग के जरिये दी एंट्री की इजाजत

Israel Hamas War: इजरायल और हमास जंग के मैदान में पिछले 27 दिनों से हैं. इस दौरान युद्ध क्षेत्र में सैकड़ों विदेशी नागरिकों और दर्जनों फिलिस्तीनियों को गाजा से बाहर जाने की अनुमति दी गई है. ये लोग गाजा से मिस्र में प्रवेश पा रहे हैं.

auth-image
Shubhank Agnihotri
Israel Hamas War: जंग के बीच रहम दिल हुआ मिस्र, फिलिस्तीनी और विदेशी नागरिकों को रफा क्रॉसिंग के जरिये दी एंट्री की इजाजत

Israel Hamas War: इजरायल और हमास जंग के मैदान में पिछले 27 दिनों से हैं. इस दौरान युद्ध क्षेत्र में सैकड़ों विदेशी नागरिकों और दर्जनों फिलिस्तीनियों को गाजा से बाहर जाने की अनुमति दी गई है. ये लोग गाजा से मिस्र में प्रवेश पा रहे हैं. बीते तीन हफ्तों में ऐसा पहली बार हुआ है जब घायलों और विदेशी नागरिकों को बाहर निकलने की अनुमति दी गई है.


गाजा छोड़कर जा रहे लोग

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, गंभीर रूप से घायल दर्जनों फिलिस्तीनियों को बुधवार को मिस्र में प्रवेश पाने की उम्मीद थी. दर्जनों फिलिस्तीनी पहले ही मिस्र में प्रवेश पा चुके हैं. मिस्र के कई अस्पतालों में उनका इलाज चल रहा है. मिस्र के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि लोग धीरे-धीरे आ रहे हैं. अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि गाजा छोड़ने वालों में कुछ अमेरिकी नागरिक भी शामिल हैं.

काहिरा से जाएंगे अपने-अपने देश

रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका ने कहा है कि आने वाले दिनों में और अधिक लोग गाजा से बाहर निकलेंगे. इसके लिए बैकडोर डिप्लोमेसी की मदद ली जा री है. इसके लिए मिस्र, इजरायल और कतर के बीच बातचीत चल रही थी. कतर हमास के साथ मध्यस्थता का काम कर रहा है. रिपोर्ट के अनुसार, 360 से ज्यादा विदेशी पासपोर्ट धारकों ने गाजा छोड़ दिया है. मामले से जुड़े अधिकारियों ने कहा कि दर्जनों लोग अब काहिरा जा रहे हैं. वहां से फ्लाइट पकड़कर लोग अपने देश जाएंगे.


रफा क्रॉसिंग पार कर पहुंचे मिस्र

मिस्र के अधिकारी के मुताबिक,  आज 491 विदेशी नागरिकों को मिस्र पहुंचने के लिए शामिल किया गया था. हालांकि, इनमें से 130 लोग रफा क्रॉसिंग पार नहीं कर पाए. ऐसे लोगों ने अपने परिवारों के बिना मिस्र जाने से इंकार कर दिया. सूत्रों के मुताबिक रफा क्रॉसिंग के जरिए घायलों और विदेशी नागरिकों को मिस्र जाने का मामला किसी भी तरह के बंधकों को छुड़ाने के मामले से बिलकुल अलग है.

यह भी पढ़ेंः Nigeria Boko Haram Attack: नाइजीरिया में बोको हराम का खूनी खेल 37 लोगों को मौत के घाट उतारा