share--v1

कौन है मौरिस नोरोन्हा? जिसने फेसबुक Live में शिवसेना नेता को मारी गोली फिर की आत्महत्या

पूर्व विधायक विनोद घोसालकर के बेटे अभिषेक घोसालकर की मौरिस नोरोन्हा ने निजी विवाद के चलते गोली मारकर हत्या कर दी. शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने अभिषेक घोसालकर की हत्या को लेकर CM शिंदे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार पर जमकर हमला बोला है.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

नई दिल्ली: उद्धव ठाकरे गुट के नेता और पूर्व सभासद अभिषेक घोषालकर की गोली मारकर हत्या कर दी गई. यह घटना तब हुई जब अभिषेक घोषालकर बीते गुरुवार को फेसबुक लाइव चैट पर चर्चा कर रहा था. इस दौरान हमलावर ने उस पर गोलियों की बौछार कर दी. गोली चलाई. जिसमें उन्हें तीन गोली लगीं. आनन-फानन में उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने दम तोड़ दिया.

मुंबई के दहिसर इलाके में इस घटना को अंजाम देने का आरोपी की पहचान पुलिस ने मौरिस नोरोन्हा के रूप में की है. जिसने वारदात के अंजाम देने के बाद खुदकुशी कर ली. शुरुआत जांच में पता चला है कि आपसी रंजिश के चलते फायरिंग की गई. फिलहाल पुलिस महकमे के आला-अधिकारी इस मामले की तहकीकात में जुटा हुआ है. विनोद घोसालकर उद्धव ठाकरे गुट के नेता पूर्व विधायक अभिषेक घोषालकर उनके बेटा हैं.

जानें कौन था मौरिस नोरोन्हा? 

अभिषेक घोषालकर को गोली मारकर खुद की आत्महत्या करने वाला शख्स मौरिस नोरोन्हा मुंबई के बोरीवली पश्चिम आईसी कॉलोनी में रहते थे. मौरिस सामाजिक कार्यकर्ता होने के साथ-साथ राजनीतिक क्षेत्र में सक्रिय था. उसके सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई बड़े राजनेताओं के साथ तस्वीरें देखी गई है. अभिषेक और मौरिस के ऑफिस अगल-बगल थे. स्थानीय लोगों की मानें तो स्थानीय राजनीति में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर दोनों के बीच लंबे समय से सियासी रंजिश चल रही थीं. 

मौरिस नोरोन्हा और अभिषेक घोसालकर के बीच रंजिश 

मौरिस नोरोन्हा और अभिषेक घोसालकर दोनों वार्ड नंबर 1 से चुनाव लड़ना चाहते थे. जिसको लेकर दोनों के बीच मनमुटाव था. मौरिस पर एक महिला का रेप और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था.  करीब दो साल पहले पुलिस ने 48 साल महिला का रेप करने, ब्लैकमेल, धोखाधड़ी करने और धमकी देने के आरोप में  नोरोन्हा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करते हुए गिरफ्तार किया था. 

आदित्य ठाकरे ने सरकार को जमकर घेरा 

शिवसेना नेता इस घटना को लेकर महाराष्ट्र सरकार को कठघरे में खड़ा किया हैं. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पोस्ट पर आदित्य ठाकरे ने कहा "महाराष्ट्र में ऐसी अराजकता पहले कभी नहीं देखी गई. कानून व्यवस्था की स्थिति को आज की तरह विफल होते देखना शब्दों से परे चौंकाने वाला है. क्या आम आदमी की सुरक्षा के लिए कोई सिस्टम मौजूद है? क्या कानून का डर मौजूद है? प्रशासन पूरी तरह से नदारद हो गया है."

'गृह मंत्री के रूप में फड़णवीस पूरी तरह विफल'

वहीं शिवसेना (यूबीटी) सांसद संजय राउत ने एक्स पोस्ट पर लिखा "महाराष्ट्र में गुंडा राज! सीएम शिंदे ने चार दिन पहले मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास वर्षा में मौरिस से मुलाकात की थी और उन्हें अपने नेतृत्व वाली शिवसेना में शामिल होने को कहा था. गृह मंत्री के रूप में फड़णवीस पूरी तरह विफल हैं इस्तीफा दे देना चाहिए.

Also Read

First Published : 09 February 2024, 09:19 AM IST