menu-icon
India Daily
share--v1

एस जयशंकर बड़ा बयान, बोले 'भारत से सलाह के बिना दुनिया का कोई बड़ा मसला हल नहीं होता'

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने नागपुर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत से चर्चा के बगैर किसी भी बड़े वैश्विक मुद्दे पर फैसला नहीं लिया जाता.

auth-image
Amit Mishra
S Jaishankar

S Jaishankar Said World Perspective Changed: भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर का कहना है कि बीते कुछ सालों में भारत को लेकर दुनियाभर का नजरिया बदला है. अब स्थिति ऐसी है कि भारत की सलाह और मशवरे के बिना किसी भी बड़े वैश्विक मुद्दे पर फैसला नहीं लिया जाता. जयशंकर ने नागपुर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत से चर्चा के बगैर किसी भी बड़े वैश्विक मुद्दे पर फैसला नहीं लिया जाता. हम बदल गए हैं और हमें लेकर दुनिया का दृष्टिकोण भी बदला है. हमें सीखना होगा कि अलग-अलग देशों से डील करते वक्त हमारे हितों पर कैसे गौर किया जए.

'...तब तक नहीं सुधरेंगे संबंध' 

इस दौरान जयशंकर ने भारत और चीन के बीच राजनयिक संबंधों पर भी बात करते हुए कहा कि जब तक कि सीमा मुद्दों का हल नहीं निकलेगा, तब तक वे सामान्य नहीं हो सकते. उन्होंने कहा कि मैंने अपने चीनी समकक्ष से कह दिया है कि जब तक कि आप सीमा विवाद का हल नहीं निकालते, तब तक संबंधों में सुधार नहीं हो सकता. 

'भारत की मजबूत स्थिति' 

गौरतलब है कि, एस जयशंकर कई मौकों पर वैश्विक पटल पर भारत की मजबूत स्थिति का उल्लेख कर चुके हैं. वो हाल ही में अपनी किताब 'व्हाई भारत मैटर्स' पर चर्चा के दौरान भारत को लेकर रामायण का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि रामायण में कई बेहतरीन डिप्लोमैट हुए हैं. हमें राम और लक्ष्मण के रूप में एक महान साझेदारी भी देखने को मिली हैं. रामायाण में कई बेहतरीन डिप्लोमैट थे. हर कोई हनुमान की बात करता है. लेकिन वहां अंगद भी थे. हर किसी ने कूटनीतिक स्तर पर अपना योगदान दिया है.