share--v1

Usha Kiran Khan: पद्मश्री से सम्मानित लेखिका उषा किरण खान का निधन, हिंदी और मैथिली साहित्य के लिए मिले कई सम्मान

Dr Usha Kiran Khan: मशहूर साहित्यकार पद्मश्री डॉ. उषा किरण खान का रविवार को बिहार की राजधानी पटना के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. वो पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रही थीं.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

Dr Usha Kiran Khan: मशहूर साहित्यकार पद्मश्री डॉ. उषा किरण खान का रविवार को बिहार की राजधानी पटना के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. वो पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रही थीं. डॉ. उषा किरण खान हिंदी और मैथिली की एक प्रतिष्ठित लेखिका थीं, जिन्होंने अपने मैथिली उपन्यास 'भामती: एक अविस्मारनिया प्रेमकथा' के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार मिला. 

डॉ. उषा किरण खान हिंदी और मैथिली की प्रसिद्ध रचनाकार थी. उषा किरण खान को मैथिली उपन्यास भामती के लिये साहित्य अकादमी पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था. उषा किरण खान के निधन के तुरंत बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक व्यक्त किया.

उषाकिरण खान का जन्म 7 जुलाई, 1945 को बिहार के दरभंगा जिले के लहेरियासराय में हुआ.  उषा किरण खान को हिंदी और मैथिली भाषाओं में उनके अद्वितीय योगदान के लिए कई प्रतिष्ठित सम्मान मिले थे. मातृभाषा मैथिली में भी बहुतेरा सृजन किया और उपन्यास, कहानी, नाटक, बाल कथा,संस्मरण, समीक्षा के क्षेत्र में अपनी प्रभावी छाप छोड़ी. 

First Published : 11 February 2024, 08:00 PM IST