menu-icon
India Daily
share--v1

'यूं ही नहीं डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा देने चले थे फडणवीस, दिमाग में चल रहा था बड़ा प्लान', खुद किया खुलासा

लोकसभा में बीजेपी के खराब प्रदर्शन का कारण बताते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि पार्टी के कुछ नेताओं की गलत बयानबाजी का पार्टी को नुकसान हुआ.

auth-image
India Daily Live
Devendra Fadnavis
Courtesy: social media

देवेंद्र फडणवीस से शनिवार को महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम पद से इस्ताफा देने की सभी अफवाहों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा, 'मैं भागने वाला नहीं हूं, न ही मैंने भावनाओं में बहकर कोई फैसला लिया है. मेरे दिमाग में एक योजना थी.' डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा देने के कारणों का खुलासा करते हुए फडणवीस ने कहा, 'मैंने इन लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में भाजपा का नेतृत्व किया, इसलिए मैंने कहा कि इस हार के लिए मैं ही जिम्मेदार हूं. मैंने अपना पद छोड़ने की अनुमति मांगी ताकि मैं विधानसभा में जमीनी स्तर पर कुछ काम कर सकूं लेकिन शीर्ष नेतृत्व ने मुझ पर भरोसा दिखाया.'

फडणवीस ने शुक्रवार को अमित शाह से मुलाकात के बाद यह टिप्पणी की. कहा जा रहा है कि अमित शाह ने देवेंद्र फडणवीस से  इस्तीफा न देने को कहा है और इस साल के अंत में महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी करने को कहा है.

'मैं एक मिनट भी चुप नहीं बैठने वाला'

अमित शाह के साथ बैठक के बारे में बताता हुए महाराष्ट्र डिप्टी सीएम ने कहा, 'मैंने अमित शाह से मुलाकात की जिन्होंने मुझे पद पर रहने की हिदायत दी और मैं ऐसा ही करूंगा. मैं एक मिनट भी चुप नहीं बैठने वाला. हमारे पास एक रणनीति है और मैंने पहले ही इस पर काम करना शुरू कर दिया है.' बता दें कि महाराष्ट्र लोकसभा चुनाव में भाजपा के खराब प्रदर्शन के बाद फडणवीस ने 5 जून को अपने इस्तीफे की पेशकश की थी.

लोकसभा में भाजपा के खराब प्रदर्शन का क्या रहा कारण
लोकसभा में बीजेपी के खराब प्रदर्शन का कारण बताते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि पार्टी के कुछ नेताओं की गलत बयानबाजी का पार्टी को नुकसान हुआ. प्रधानमंत्री मोदी ने एनडीए का नेता चुने जाने से पहले संविधान की पूजा की. उन्होंने कहा कि भाजपा को सीटें कम जरूर मिली हैं लेकिन 2019 के मुकाबले भाजपा का वोट शेयर कम नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि 11 संसदीय क्षेत्रों में भाजपा 5 प्रतिशत से भी कम वोटों से हारी है.