menu-icon
India Daily
share--v1

दंपति ने पुलिस स्टेशन में घुसकर उतारी पुलिस अधिकारी की आरती, फिर जो हुआ...देखें वायरल वीडियो

दंपति ऐसा कर खुद ही पचड़े में फंस गया. अनुचित व्यवहार के लिए पुलिस ने दंपति के खिलाफ केस दर्ज किया और उन्हें कोर्ट में पेश किया.

auth-image
India Daily Live
couple performed aarti of police inspector in mp

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें एक दंपति एक पुलिस थाने में घुसकर पुलिस अधिकारी की आरती उतार रहा है. यही नहीं दंपति ने पुलिस अधिकारी को फूलमाला पहनाने और शॉल उढ़ाने की भी कोशिश की. आप सोच रहे होंगे कि पुलिस अधिकारी ने बहुत ही शानदार काम किया होगा जिस कारण यह दंपति उनकी आरती उतारने के लिए थाने पहुंच गया लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है. घटना तो बिल्कुल आपकी सोच के विपरीत घटी है.

दरअसल, हुआ ये कि दंपति ने चोरी के एक मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन कथित तौर पर पुलिस ने शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की. इस बाद से परेशान दंपति पुलिस स्टेशन पहुंचा और कस्बे के इंस्पेक्टर जेपी पटेल की आरती उतारने लगा. इंस्पेक्टर अपने चैंबर से उठे और पूरे मामले को शांत करने की कोशिश की.

पुलिस स्टेशन में इस तरह की हरकत करने के लिए दंपति अनुराधा और कुलदीप सोनी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने उन्हें इस हरकत के लिए कड़ी फटकार लगाई.

'मेरा अपमान करने की कोशिश की'

दंपति के आरोप पर पुलिस इंस्पेक्टर ने कहा कि पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. उन्होंने कहा कि दंपति ने ये सब उनका अपमान करने के लिए किया और उन्होंने प्रशासनिक कार्य में बाधा डालने की कोशिश की.

पटेल ने कहा कि उन्होंने इस पूरे मामले की रिकॉर्डिंग की और बिना अनुमति के उसे फेसबुक पर पोस्ट कर दिया. हमने उनसे बैठने और मामले पर बातचीत करने को कहा लेकिन उन्होंने एक ना सुनी.

बता दें कि दंपति की  रीवा और मऊगंज जिले में ज्वैलरी की दुकानें हैं. दंपति ने अपने नौकरों अर्पित और मुकेश पर चार किलो चांदी की चोरी का आरोप लगाते हुए हाल ही में शिकायत दी थी. जनवरी में उन्होंने रीवा पुलिस थाने में शिकायत भी दर्ज कराई थी.

हालांकि बाद में मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने दोनों आरोपियों को जमानत दे दी थी. सोनी दंपति का आरोप था कि पुलिस की लापरवाही की वजह से आरोपी बचते दिख रहे हैं. अब पुलिस ने उल्टा सोनी दंपति के खिलाफ मामला दर्ज किया है. हाई कोर्ट ने भी उनके कृत्य को अनुचित बताया है.