menu-icon
India Daily
share--v1

Delhi-NCR में प्रदूषण के बीच झमाझम बारिश, मौसम हुआ सुहाना, कई जगहों पर 100 से कम हुआ AQI

Delhi NCR Weather: दिल्ली एनसीआर के कई हिस्सों में शुक्रवार की देर रात को हल्की बारिश हुई, जिससे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बढ़े वायु प्रदूषण से काफी राहत मिली

auth-image
Avinash Kumar Singh
Delhi-NCR में प्रदूषण के बीच झमाझम बारिश, मौसम हुआ सुहाना, कई जगहों पर 100 से कम हुआ AQI

Delhi NCR Weather: दिल्ली एनसीआर के कई हिस्सों में शुक्रवार की देर रात को हल्की बारिश हुई, जिससे राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बढ़े वायु प्रदूषण से काफी राहत मिली. कर्तव्य पथ और दिल्ली-नोएडा में हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश से मौसम सुहाना नजर आया.

बारिश से मौसम सुहाना 

दिल्ली सरकार ने 'कृत्रिम बारिश' कराने का किया है फैसला

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश प्रदूषण की स्थिति को कम करने के लिए 'कृत्रिम बारिश' को लागू करने के दिल्ली सरकार के चल रहे प्रयासों के बीच हुई है. दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार को दिल्ली सरकार ने शहर में वायु प्रदूषण से निपटने के लिए 'कृत्रिम बारिश' कराने का फैसला किया है.

दिल्ली में AQIलेवल बेहद गंभीर

इस बीच दिल्ली सरकार ने प्रदूषण विरोधी उपायों के कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए मंत्रियों को भी जमीन पर उतार दिया है. निरीक्षण प्रक्रिया के हिस्से के रूप में दिल्ली के कई मंत्री गुरुवार को दिल्ली को पड़ोसी राज्यों से जोड़ने वाले विभिन्न क्षेत्रों और सीमाओं का निरीक्षण करते देखे गए. मौदूजा समय मे शहर की AQI लेवल गंभीर श्रेणी पाए जाने के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) के चरण IV को लागू किया गया है.

"कृत्रिम बारिश से एक सप्ताह तक अस्थायी राहत"

IIT कानपुर ने दिल्ली और उसके पड़ोसी क्षेत्रों में वायु प्रदूषण की समस्या के समाधान के लिए एक संभावित समाधान विकसित किया है. हवा से प्रदूषकों और धूल को साफ करने में मदद के लिए क्लाउड सीडिंग के माध्यम से कृत्रिम बारिश के उपयोग का प्रस्ताव रखा है .मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रमुख संस्थान IIT कानपुर पिछले पांच सालों से अधिक समय से कृत्रिम बारिश के लिए आवश्यक परिस्थितियां बनाने पर काम कर रहा है और जुलाई में इसका सफल परीक्षण किया गया था. बीते दिनों दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि सरकार वायु प्रदूषण से निपटने के लिए अपनी शीतकालीन कार्य योजना के लिए क्लाउड सीडिंग का प्रयास करने की तैयारी कर रही है हम आगे के उपायों के कार्यान्वयन की संभावनाओं को तलाशेंगे.

यह भी पढ़ें: Bihar Politics: 'मेरी मूर्खता से सीएम बने थे जीतनराम'...अब नीतीश के बयान पर मांझी ने किया पलटवार