menu-icon
India Daily
share--v1

राजस्थान में करप्शन की 'ज्योति' बनी सचिवालय की वित्तिय सलाहकार, 2 दिन के भीतर खरीद डाले 26 फ्लैट

Jyoti Bhardwaj : राजस्थान में इन दिनों करप्शन का नया मामला सामने आया है. राजस्थान सरकार के सचिवालय में वित्तिय सलाहकार के रूप में काम कर रही ज्योति भारद्वाज ने 2 दिन के अंदर ही 1,2 नहीं बल्कि 26 फ्लैट खरीदकर सुर्खियों में आ गई है.

auth-image
Suraj Tiwari
राजस्थान में करप्शन की 'ज्योति' बनी सचिवालय की वित्तिय सलाहकार, 2 दिन के भीतर खरीद डाले 26 फ्लैट

नई दिल्ली : राजस्थान में इन दिनों करप्शन का नया मामला सामने आया है. राजस्थान सरकार के सचिवालय में वित्तिय सलाहकार के रूप में काम कर रही ज्योति भारद्वाज ने 2 दिन के अंदर ही 1,2 नहीं बल्कि 26 फ्लैट खरीदकर सुर्खियों में आ गई है. हालांकि मामला पूराना है लेकिन जानकारी में अब आया है. इनके ऊपर आय से अधिक संपत्ति का मामला सामने आया है. जिसकी कुल कीमत 4 करोड़ 71 लाख बताया जा रहा है.

पेमेंट करने के बाद भी बैंक से नहीं हुआ भुगतान

ज्योति भारद्वाज फिलहाल राजस्थान सचिवालय में कार्मिक विभाग के स्टोर डिपार्टमेंट वित्तिय सलाहकार के पद पर तैनात हैं. इससे पहले ज्योति अलवर में लंबे समय तक जिला कोषाधिकारी और मत्स्य यूनिवर्सिटी में बतौर वित्तीय नियंत्रक के पद पर चुकी है. ज्योति ने सभी 26 फ्लैट मानसरोवर लिंक रोड के जेडीए मार्केट स्थित बिल्डटेक से खरीदी है. इन सभी फ्लैट को लोन पर नहीं बल्कि पूरी तरह से पेमेंट करके करके खरीदा गया है. इसके लिए 4 करोड़ 71 लाख में खरीदे गए हैं.  वहीं इस मामले में बिल्डर को अभी तक कोई भुगतान नहीं हो पाया है. जानकारी के मुताबिक डेढ़ साल पहले चेक द्वारा हुए पेमेंट का बैंक भुगतान ही नहीं कर रहा है. इसके साथ ही बिल्डर का कहना है कि सभी चेक डीएलसी (डिस्ट्रिक्ट लेवल कमेटी) रेट पर दिए गए हैं जबकि फ्लैट्स की वास्तविक कीमत बहुत ज्यादा है.

मामला आने के बाद छूट्टी के बाद भी दिखी विभाग में हलचल

इस मामले के जानकारी में आने के बाद हंगामा मचा हुआ है. हालांकि अभी तक विभाग द्वारा कोई नोटिस या फिर एफआईआर नहीं दर्ज कराई गई है. जबकि यह मामला 16 सितंबर को ही प्रकाश में आ गया था. इस मामले के बाद शनिवार को छुट्टी होने के बावजूद भी वित्त और लेखा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी इस विषय पर चर्चा और जांच करते हुए विभाग में दिखाई दिए थे. हर साल अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा राज्य सरकार को दिए जाने वाले संपत्ति की जानकारी में भी ज्योति भारद्वाज ने इन फ्लैट्स का कहीं कोई जिक्र नहीं किया. खरीदे गए 26 फ्लैटों में 15 ज्योति ने अपने नाम वहीं 11 अपने बेटे रोशन वशिष्ठ के नाम करवाई थी.

इसे भी पढ़ें-  BJP और AIADMK गठबंधन में आई दरार पर राघव चड्ढा ने कसा तंज, NDA एलांयस को दिखाया आईना