share--v1

धार्मिक लॉकेट, स्पेशल डाइट और तीन किताबें... जेल जाने से पहले केजरीवाल की कोर्ट से मांग

Delhi Excise Policy: एक्साइज पॉलिसी मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

auth-image
India Daily Live

Delhi Excise Policy: दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को शराब नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया. ईडी ने कार्ट से केजरीवाल की न्यायिक हिरासत की मांग थी, जिसे कोर्ट ने मंजूर कर ली. इससे पहले तिहाड़ जेल में मीटिंग हुई थी. जिसमे अरविंद केजरीवाल अगर तिहाड़ जेल न्यायिक हिरासत में आते हैं तो उन्हें किस नंबर जेल में रखना है और सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर सारी तैयारी की योजना बनाई गई. 

अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट के सामने अपनी कुछ मांगे रखीं. केजरीवाल ने कोर्ट से अपना धार्मिक लॉकेट साथ जेल में ले जाने की मांग की है. इसके अलावा उन्होंने स्पेशल डाइट, जेल में मेज और कुर्सी दिए जाने की भी मांग कोर्ट से की है. इसके साथ ही केजरीवाल ने तीन किताबें भी मांगी हैं- रामायण, महाभारत और हाऊ प्राइम मिनिस्टर डिसाइड.

केंद्रीय एजेंसी ने कोर्ट को बताया कि केजरीवाल जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. वह हमारे सवालों का गोलमोल जवाब दे रहे हैं. इस बीच, दिल्ली में ईडी मुख्यालय पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है और परिसर में पुलिस बैरिकेड्स लगाए गए हैं. 

ईडी ने आबकारी नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 21 मार्च की रात को आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया था.  22 मार्च को कोर्ट ने केजरीवाल को 28 मार्च तक की ईडी हिरासत में भेज दिया. फिर उन्हें 28 मार्च को 1 अप्रैल तक की ईडी हिरासत में भेज दिया गया था. 

केजरीवाल पर क्या हैं आरोप?

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर नई शराब नीति को लागू कराने में भष्टाचार के आरोप हैं. इस मामले में पहले ही पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिय और संजय सिंह जेल में हैं. ईडी ने केजरीवाल को मामले में मुख्य साजिशकर्ता करार दिया है. अरविंद केजरीवाल गिरफ्तार होने वाले पहले सिटिंग सीएम हैं. इससे पहले झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन को ED ने गिरफ्तार किया था. केजरीवाल ने इस्तीफा नहीं दिया है और जेल से ही सरकार चलाने की बात कर रहे हैं. 

Also Read