share--v1

Cyclone Michaung: दरिया बनी सड़कें...एयपोर्ट पानी से लबालब, अब तक चेन्नई में बारिश से 2 की मौत

Cyclone Michaung: साइक्लोन मिचौंग ने अपनी भायानक रूप दिखाना शुरू कर दिया है. तमिलनाडु के कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है.

auth-image
Gyanendra Sharma
फॉलो करें:

Cyclone Michaung: साइक्लोन मिचौंग ने अपनी भायानक रूप दिखाना शुरू कर दिया है. तमिलनाडु के कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है. चेन्नई में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. मिचौंग साइक्लोन 5 दिसंबर को किसी भी समय आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तट से टकरा सकता है. मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, इस दौरान 90 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे (KMPH) की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.

एयरपोर्ट पानी से लबालब

चेन्नई में भारी बारिश के कारण एयरपोर्ट पानी से लबालब भर गया है. चेन्नई एयरपोर्ट पर पानी भरने की वजह से रनवे सोमवार रात 11 बजे तक बंद रखे गए हैं.कनाथूर इलाके में दीवार गिरने से दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक शख्स गंभीर रूप से घायल हो गया. तमिलनाडु में सोमवार को जरूरी सेवाओं को छोड़कर सार्वजनिक छुट्‌टी घोषित कर दी गई है.

 

 

118 ट्रेनें कैंसल

तूफान को देखते हुए प्रशासन ने भी मोर्चा संभाल लिया है. IMD ने बताया कि, तूफान का असर ओडिशा, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में रहेगा.इन राज्यों में SDRF और NDRF की टीमें तैनात की गई हैं. रेलवे ने अब तक 118 ट्रेनें कैंसल की हैं.

 

सोशल मीडिया पर भारी बारिश की कई तस्वीरें सामने आई हैं. सड़कें, रेलवे स्टेशन यहां तक की घरों में बारिश की पानी घुस गई हैं. आसमान से गिर रही इस आफत की बारिश ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है.

कब और कहां होगा लैंडफॉल?

बंगाल की खाड़ी से उठा ये तूफान मंगलवार को आंध्र प्रदेश के नल्लोर और मछलीपट्टनम की तट से टकराएगी. मौसम विभाग ने बताया कि इस दौरान हवा की गति 100 किली प्रति घंटे से भी ऊपर रहेगी. हालात को देखते हुए राज्य सरकार पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है. NDRF की कई टीमें तैनात की गई हैं जो लोगों की मदद कर रही है. सरकार ने संवेदनशील इलाके में रह रहे लोगों की मदद के लिए आपदा कर्मियों को तैनात किया है. साथ ही लोगों के लिए राहत केंद्र भी बनाए गए हैं.

बताया गया है कि पिछले छह घंटों में 8 किमी प्रति घंटे की गति के साथ माइचौंग आगे बढ़ रहा है. यह पुदुचेरी से लगभग 230 किलोमीटर पूर्व-उत्तरपूर्व, चेन्नई से 190 किलोमीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व, नेल्लोर से 310 किलोमीटर दक्षिणपूर्व, बापटला से 410 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व और मछलीपट्टनम से 430 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व में केंद्रित है.

Also Read

First Published : 04 December 2023, 04:03 PM IST